राजनाथ सिंह के बयान पर आया इमरान खान का बड़ा बयान, मचेगी हलचल


RAJNISH KUMAR 19/08/2019 12:57:47
63 Views

New Delhi. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से बौखलाए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अब भारत के लोगों के बीच जहर घोलने की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। धार्मिक भावनाओं को भड़का कर पाकिस्तान भारत की शांति को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है। इमरान खान अब इसके अगुआ बने दिख रहे हैं।

19-08-2019130008rajnathsingh1

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को वैश्विक बिरादरी से समर्थन मिल नहीं रहा है। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पड़ोसी देश में पल रहे आतंकी संगठनों की दुकानें बंद होने का अंदेशा है। ऐसे में बौखलाया इमरान खान भारत की शांति को भंग करने की कोशिश में जुट गया है। इमरान खान ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा है कि भारत की मोदी सरकार हिंदू सुप्रीमेसी को बढ़ावा दे रहा है।

यह सरकार पाकिस्तान के साथ-साथ भारत के अल्पसंख्यकों और वास्तविक अर्थों में नेहरू-गांधी के भारत के लिए खतरा बन गई है। आरएसएस व भाजपा के संस्थापकों की नाजी विचारधारा और जातीय आधार पर भेद की विचारधारा के लिंक को समझने के लिए गूगल करें। दरअसल, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री जब वैश्विक मंचों पर मुंह की खाकर लौटे हैं तो उनके लिए अपनी कुर्सी बचाए रखने का एकमात्र तरीका भारत में जातीय उन्माद पैदा करना है।

पाकिस्तान शायद भूल रहा है कि भारत में लोगों के बीच भावनात्मक रिश्ते इतने गहरे हैं कि किसी दुश्मन देश के प्रधानमंत्री के भड़काऊ भाषणों से टूट जाएं। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री को भारत जैसे महान देश की संस्कृति पर उंगली उठाने से पहले अपने देश के अल्पसंख्यकों की स्थिति की बात करनी चाहिए।

धर्मांतरण के खेल के बारे में बताना चाहिए, जिसके लिए हाल में ही उनकी अमेरिका दौरे के दौरान किरकिरी हुई थी। दरअसल, पाकिस्तान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के तेवर से घबराया हुआ है। अब तक एटम बम की धमकी देने वाले पाकिस्तान को राजनाथ सिंह ने उनकी ही भाषा में जवाब दिया है। भारत ने वक्त के हिसाब से परमाणु हथियारों के उपयोग के लिए पहले हमले नहीं करने की रणनीति पर विचार करने की बात कही है।

19-08-2019130013rajnathsingh2

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के तेवर इसी के बाद से ढीले हैं। वह देश की नरेंद्र मोदी सरकार को फासीवादी व जातिवादी बता रहा है। कह रहा है कि हिंदू सुप्रीमो मोदी सरकार के नियंत्रण में विश्व को भारत के परमाणु शस्त्रागार के बचाव व सुरक्षा पर भी गंभीरता से विचार करना चाहिए। यह एक ऐसा मुद्दा है जो न केवल क्षेत्र, बल्कि दुनिया को प्रभावित करता है।

इमरान ने बांग्लादेश से शरणार्थी बनकर अवैध रूप से भारत में रह रहे नागरिकों का भी जिक्र किया है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री आरएसएस व भाजपा के नाम पर एक प्रकार का माहौल बनाने की कोशिश रहा है। लेकिन, अब उसकी कोई भी बात का असर नहीं होने वाला। आतंक फैलाने वाले इस देश को पहले अपने घर में बने आतंकवाद के वृक्ष को काटने की जरूरत है। वरना, यही आतंकवाद इमरान सरकार की कुर्सी को हिलाकर उन्हें गद्दी से नीचे उतार देगी।

यह भी पढ़ें ...

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का निधन, पार्टी में दौड़ी शोक की लहर

तंजानिया तेल टैंकर धमाके में मरने वालों की संख्या पहुंची 95

महाराष्ट्र: बस और ट्रक में जोरदार टक्कर से 15 की मौत, 35 घायल

इस कद्दावर भाजपाई ने दिया योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा, जानिए क्या रही वजह

 

 

Web Title: rajnath singh ke bayan par aaya imran ka bada bayan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया