सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, पूर्व वित्त मंत्री चिदम्बरम की गिरफ्तारी पर लगाई रोक


RAJNISH KUMAR 23/08/2019 14:33 PM
1111 Views

New Delhi. आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने 26 अगस्त तक चिदम्बरम को ईडी मामले में गिरफ्तार करने पर रोक लगा दी है। अब सुप्रीम कोर्ट सोमवार को इस मामले में सुनवाई करेगा।

Supreme Court Ne sunaya Bada Faisla

सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम की अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई की।  सुनवाई के दौरान चिदम्बरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का समय पर रूख किया, इसके बावजूद हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ चिदम्बरम की याचिका नहीं सुनी गई। उन्होंने कहा कि यह उनके मूल अधिकारों का हनन है।

सिब्बल ने कहा कि आईएनएक्स मामले में बहस खत्म होने के बाद सालिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट के जज को एक नोट दिया था, लेकिन चिदम्बरम को उस नोट का जवाब देने का मौका भी नहीं दिया गया। इस सालिसिटर जनरल ने तुरंत सिब्बल को टोक दिया। उन्होंने कहा कि मैने बहस पूरी होने के बाद नोट नहीं दिया है। आप झूठी बयानबाजी न करिए।

सालिसिटर जनरल ने कहा कि अभी प्री चार्जशीट की स्टेज चल रही है, लेकिन टेलीविजन डीबेट में कहा जा रहा है कि बदला लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डिजिटल डाक्युमेंट और ईमेल में कई सबूत हैं। उन्होंने कपिल सिब्बल की दलीलों के जवाब में कहा, जब सिब्बल मीडिया के सामने बात कर रहे थे तो मुझे इनका तर्क पता लग गया था। तुषार ने कहा कि वह कोर्ट में डायरी दे सकते हैं और सबूत पेश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ईडी को विदेश में 10 प्रॉपर्टी, 17 बैंक अकाउंट मिले हैं, जो चिदम्बरम से जुड़े हुए हैं। इसे लेकर बिना कस्टोडियल पूछताछ के इस मामले का पर्दाफाश नहीं हो सकता है। तुषार ने कहा कि आरोपी कस्टडी में भी सीबीआई के जवाबों को ढंग से नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि ईडी के पास गिरफ्तार करने की ताकत है और इसके कारण भी हैं।

वहीं, चिदम्बरम की अंतरिम याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ले कहा कि अब वह गिरफ्तार हो चुके है, ऐसे में इस याचिका का कोई औचित्य नहीं है। इस पर चिदम्बरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि हमने गिरफ्तारी से पहले याचिका दी थी, इसलिए राहत मिलनी चाहिए।

Web Title: Supreme Court Ne sunaya Bada Faisla ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया