एक रिपोर्ट में किया गया दावा,अमेरिका को चक्रवातों से बचाने के लिए ट्रंप ने दी ये सलाह


RAGHVENDRA CHAURASIA 26/08/2019 13:08 PM
71 Views

Washington. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने देश अमेरिका को चक्रवातों से बचाने के लिए बड़ा फैसला लिया है। एक्सियोस नाम की एक समाचार वेबसाइट की रिपोर्ट में इस बात का जिक्र है। डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका में आने वाले चक्रवातों पर,यहां पहुंचने से पूर्व ही परमाणु बम गिराने की सलाह दी है ताकि उनकी गति धीमी पड़ जाए।

In a report claimed, Trump advised to save America from cyclones

चक्रवात बनने की प्रक्रिया को बाधित करने के लिए परमाणु बम गिराया जा सकता है

अमेरिका की एक्सियोस वेबसाइट के मुताबिक चक्रवात को लेकर हुई एक बैठक में राष्ट्रपति ट्रंप ने यह जानने की कोशिश की क्या अफ्रीका के समुद्री तट पर चक्रवात बनने की प्रक्रिया को बाधित करने के लिए तूफान पर ही परमाणु बम गिराया जा सकता है। एक अज्ञात सूत्र ने बताया कि बैठक में शामिल हुए सदस्य यह कहते हुए वहां से निकल गए कि हम इसका क्या करें?

एक अधिकारी ने कहा राष्ट्रपति ट्रंप का उद्देश्य बुरा नहीं

बताया जाता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इससे पहले भी इस तरह की टिप्पणी की है। साल 2017 में राष्ट्र​पति ट्रंप ने एक वरिष्ठ अधिकारी से पूछा था कि क्या चक्रवातों के आने से पहले ही उन पर परमाणु बम गिराया जा सकता है। फिलहाल ट्रंप की इस टिप्पणी के बाद व्हाइट हाउस ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है। वहीं एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप का कहने का उद्देश्य बुरा नहीं है। एक्सियोस वेबसाइट के मुताबिक राष्ट्रपति ट्रंप का यह विचार नया नहीं है। इससे पहले 1950 में राष्ट्रपति डवाइट आइजनहोवर के कार्यकाल में एक सरकारी वैज्ञानिक ने यह सलाह दी थी। हालांकि बार-बार उठने वाले इस विचार पर वैज्ञानिक पहले भी अस​हमति जता चुके हैं।

आपको बता दें कि अमेरिका में अधिकतर चक्रवाता आता रहता है। जिससे अमेरिका में काफी जान-माल का नुकसान होता है। 
 

 

Web Title: In a report claimed, Trump advised to save America from cyclones ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया