डकैत बबुली कोल ने किसान को अगवा कर मांगी फिरौती, पुलिस ने शुरू की कांबिंग


DEEP KRISHAN SHUKLA 08/09/2019 13:49:19
60 Views

Kanpur. बीहड़ में आतंक का पर्याय बने डकैत बबुली कोल गैंग ने चित्रकूट के सीमावर्ती जिले से एक किसान को अगवा कर लिया है। डकैतों द्वारा किसान को छोड़ने के एवज में 50 हजार की फिरौती मांगे जाने की बात सामने आ रही है। इसकी जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश के साथ साथ मध्य प्रदेश की पुलिस ने किसान और डकैतों की तलाश में बीहड़ों में कांबिंग शुरू कर दी है। इससे पहले भी एक किसान को डकैतों द्वारा अगवा किया जा चुका है। 

08-09-2019143603DacoitBabuli1
मिली जानकारी के मध्यप्रदेश के सतना जिले के धारकुंडी थानाक्षेत्र का हरेषण गांव उत्तर प्रदेश के समीवर्ती जिले चित्रकूट के निकट पकड़ा है। 
बताया जा रहा है कि बीती देर रात बबुली कोल गैंग के डकैतों ने गांव पहुंच कर खेतों में काम करने वाले मजदूर के जरिए किसान ललित मोहन द्विवेदी को घर से बुलवाया। इसके बाद दस्युओं ने असलहों के बल पर अगवा कर लिया। 

08-09-2019143639DacoitBabuli2
बताया यह भी जा रहा है कि डकैतों ने उसे छोड़ने के एवज में 50 हजार रुपए की फिरौती मांगी है। इस घटना के बाद ग्रामीणों में दशहत का माहौल है। 
डकैतों की सक्रियता की खबर से दोनों राज्यों की पुलिस के भी हाथपांव फूल गए। हरकत में आयी दोनों राज्यों की पुलिस ने डकैतों की तलाश में बीहड़ों की कांबिंग शुरू कर दी है। 
उधर पुलिस ने किसान के अगवा किए जाने की बात तो स्वीकार की है हलांकि फिरौती मांगे जाने की बात से इंकार किया है।

08-09-2019143704DacoitBabuli3

डकैतों की तलाश में दोनों राज्यों के आधा दर्जन से अधिक थानों की फोर्स के साथ आईजी और डीआईजी की एंटी डकै​ती टीमें भी तनात की गयी हैं। 
गौर तलब हो कि बीती 15 अगस्त को चित्रकूट जिले के मानिकपुर थाना क्षेत्र के बड़ाहारपुरवा से किसान बृजमोहन पांडेय को बबुली कोल गैंग से अगवा कर लिया था। पांच लाख की फिरौती मिलने के बाद डकैतों ने किसान को छोड़ दिया था। 

यह भी पढ़ें...टोल न चुकाने पर रोका गया रघुवंश महासभा का काफिला, हुआ हंगामा

 

 

 

 

Web Title: Dacoit Babuli Cole kidnapped farmer and demanded ransom, police started combing ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया