गठबंधन टूटने के बाद पहली बार बोले अखिलेश, आरोपों पर मायावती को दिया करारा जवाब


ABHIMANYU VERMA 11/09/2019 11:21:30
553 Views

Lucknow. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 तक किसी भी दल से गठबंधन न करने का फैसला किया है। इसी बहाने अखिलेश ने बसपा समेत अन्य विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा। एक इंटर्व्यू में मायावती के आरोप पर जवाब देते हुए अखिलेश ने बसपा पर भरोसा करने से नुक्सान की बात कबूल की है।

11-09-2019113121AkhileshYadav1

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा को हराने के लिए अपने संगठन को ठीक करना और उसके सहारे लड़ना अधिक कारगर है। उन्होंने कहा कि दूसरों पर भरोसा करके उन्हें नुकसान ही हुआ। संगठन और कार्यकर्ताओं को लगा कि दूसरों के साथ आने से वह आसानी से जीत जाएंगे। लेकिन ऐसा हुआ नहीं। 

वहीं, मायावती के आरोपों पर अखिलेश ने कहा कि अगर वोट ट्रांसफर नहीं होते तो हर सीट पर गठबंधन को 4-5 लाख वोट कहां से मिलते? वोट तो उन्हें खूब मिले, लेकिन वह अपेक्षित नतीजों में नहीं बदल सके।

यह भी पढ़ें:-...अखिलेश यादव का छलका दर्द, कहा- बड़े दलों से गठबंधन का अंजाम...

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव से पहले अखिलेश ने दशकों पुरानी दुश्मनी भुलाते हुए बसपा से हाथ मिलाया था। लेकिन इस बार भी अपेक्षाकृत परिणाम नहीं मिले। पार्टी महज पांच सीट ही जीत सकी, जबकि परिवार के तीन सदस्य चुनाव हार गए। वहीं, बसपा शून्य के आकड़ें से दस तक पहुंच गयी। इसके बावजूद मायावती ने सपाइयों पर आरोप लगाते हुए गठबंधन तोड़ लिया।  

मायावती ने कहा था कि लोकसभा चुनाव के दौरान यादवों ने महागठबंधन को वोट नहीं किया है, इसलिए वो सियासी मजबूरियों की वजह से फिलहाल गठबंधन को अस्थाई तौर पर विराम दे रही हैं। 

Web Title: Akhilesh Yadav retaliated on Mayawati's allegations ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया