धुर विरोधी ममता दीदी ने पीएम मोदी के बाद अब गृहमंत्री शाह से की मुलाकात


DEEP KRISHAN SHUKLA 19/09/2019 16:01:45
41 Views

New Delhi. पीएम मोदी और भाजपा की धुर विरोधी कही जाने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी के बाद गृहमंत्री अमित शाह से हुई बैक टू बैक मुलाकातों ने राजनैतिक गलियारों में कई सवाल खड़े कर दिए हैं। देश की राजधानी दिल्ली की सियासी तस्वीर इन मुलाकातों के चलते बदली बदली नजर आ रही है। 

19-09-2019161230Anti-socialist1

लोकसभा चुनावों के दौरान एक दूसरे अपने अपने तरकश के एक से बढ कर एक शब्दों के तीर चलाने वाले इन नेताओं की मुलाकात की वजह को लेकर लोग तरह तरह के कयास लगा रहे हैं। चुनाव के दौरान ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह को गुंडा, तानाशाह और बदमाश जैसे शब्दों से नवाजा था। 

बता दें कि बुधवार को ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी, इसके बाद गुरूवार को उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। हलांकि इस मुलाकात के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि उन्होंने असम में एनआरसी को लेकर अपनी चिंताएं गृहमंत्री के सामने रखी। उन्होंने यह भी कहा कि बंगाल में एनआरसी को लेकर कोई बात नहीं हुई, क्योंकि वहां इसकी कोई जरूरत नहीं है। ममता बनर्जी ने कहा कि गृहमंत्री ने मेरी बातें गौर से सुनी। 

19-09-2019161245Anti-socialist2

उन्होंने कहा कि इससे पहले पूर्व गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी उनकी मुलाकात होती रहती थी। बता दें कि गृहमंत्री से मुलाकात से पहले ममता ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। लोकसभा चुनाव के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात थी। 

इससे पहले पीएम मोदी के शपथग्रहण में न आने, नीति आयोग की बैठकों से बाहर रहने, आयुष्मान भारत व नए ट्रैफिक कानून को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं करने, एनआरसी पर सीधे चुनौती देने जैसे अपने कामों को लेकर ममता बनर्जी सुर्खियों में रही हैं।  ऐसे में अब ममता की मोदी और शाह से मुलाकातों को लेकर सियासी पंडित गणित लगा रहे हैं। 

 राजीव कुमार को बचाने की कोशिश तो नहीं ये मुलाकातेंं

ममता बनर्जी की पीएम मोदी के बाद अब गृहमंत्री अमित शाह से हुई मुलाकात को लेकर उन्होंने चाहे जो स्पष्टीकरण दिया हो लेकिन कयासों का दौर किसी और दिशा में ही चल रहा है। इन मुलाकातों को कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पर सीबीआई के बढ़ते शिकंजे से जोड़कर देखा जा रहा है।

एक न्यूज एजेंसी ने तो सूत्रों के हवाले से इस मुलाकात को राजीव कुमार को बचाने की कोशिश कह दिया था। इस मुलाकात पर पश्चिम बंगाल बीजेपी चीफ दिलीप घोष की प्रतिक्रिया भी सामने आयी है। उन्होंने इस कोशिश को बेकार बताते हुए कहा कि अब देर हो चुकी है। 

 राज्य के लिए मांगा 13000 करोड़ का विशेष पैकेज

राजधानी दिल्ली में तीन दिवसीय दौरे पर आई पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी ने राज्य का बांग्ला नाम रखने के लिए नाम पर सुझाव मांगा। इसके अलावा केंद्र सरकार से राज्य के लिए 13000 करोड़ के विशेष पैकेज की मांग की। साथ ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी को वीरभूम के कोयला ब्लॉक के उद्घाटन कार्यक्रम का न्योता भी दिया।

यह भी पढ़ें...कश्मीर मुद्दे पर सोनिया गांधी के विरोध पर राम माधव ने दिया ऐसा बयान, मचेगा हंगामा

Web Title: Anti-socialist Mamata Didi calls on PM Modi and Home Minister Shah ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया