सपा ने आजम के विरूद्ध अन्याय किए जाने के सम्बंध में मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन


GAURAV SHUKLA 21/09/2019 10:21:26
37 Views

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के एक प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता, सांसद एवं पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खां के विरूद्ध जिला प्रशासन द्वारा बदले की कार्रवाई और अन्याय किए जाने के सम्बंध में ज्ञापन सौंपा। इसके बाद प्रतिनिधिमण्डल ने अखिलेश को मुख्यमंत्री से हुई वार्ता के बारे में जानकारी दी।

21-09-2019102527sapaneajamk1
समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमण्डल में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय, नेता विरोधी दल विधानसभा रामगोविन्द चौधरी, नेता प्रतिपक्ष विधानपरिषद अहमद हसन, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल, पूर्वमंत्री बलराम यादव, शामिल थे।
मुख्यमंत्री को सौंपे ज्ञापन में कहा गया है कि मोहम्मद आजम खां के खिलाफ सत्ता दल द्वारा बदले की भावना से, उन्हें अपमानित और परेशान करने के लिए, रोज नए-नए फर्जी मामले दर्ज कराए जा रहे हैं। इस बात पर कैसे विश्वास किया जा सकता है कि जो व्यक्ति 9 बार विधायक 4 बार मंत्री, एक बार राज्यसभा सदस्य तथा वर्तमान में लोकसभा का निर्वाचित सांसद है, वह बकरी-भैंस चोरी जैसे काम करेगा?
प्रतिनिधिमण्डल ने बताया कि आजम ने मोहम्मद अली जौहर विश्वविद्यालय की स्थापना कर शिक्षा क्षेत्रों में एक बड़ा काम किया है। उन्होंने बच्चों के लिए पब्लिक स्कूल खोला है। इनमें यतीम और गरीब बच्चों की पढ़ाई के लिए तमाम सुविधाएं दी जाती हैं। जिला प्रशासन ने इनके ध्वस्तीकरण की इकतरफा कार्रवाई की। सपा नेताओं ने मुख्यमंत्री से कहा कि प्रशासनिक अधिकारियों का विपक्ष के प्रति विद्वेषभाव लोकतंत्र के लिए शुभ नहीं है। निम्नस्तरीय मानसिकता का यह प्रदर्शन ठीक नहीं है। उन्होंने रामपुर में जिला प्रशासन की आजम खां के खिलाफ की जा रही कार्यवाहियां तत्काल बंद किए जाने और उनके खिलाफ साजिश में लगे अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही की मांग की।

Web Title: sapa ne ajam ko ekar mukhyamantri ko diya gyapan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया