पाकिस्तान के मुंह पर पड़ा तमाचा : ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने मांगी अमेरिका में शरण


SUKIRTI MISHRA 21/09/2019 13:09:00
154 Views

Lucknow. पाकिस्तान वैश्विक स्तर पर भारत के खिलाफ कश्मीर मुद्दे पर चाहे जितना हो हल्ला मचा ले, लेकिन हाल ही में कुछ ऐसा हुआ है जिसने पाकिस्तान को बैक फुट पर लाकर खड़ा कर दिया है। ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने अमेरिका जाकर शरण मांगी है, जिसके बाद अंतर्रराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान आलोचनाओं से घिर गया है।

21-09-2019131825PakistanHuman1

अब तक पाकिस्तान भारतीय सेना पर कश्मीर पर बर्बरता करने और कश्मीरियों के मानवाधिकारों का हनन करने का आरोप मढ़ता आया है। गुलालाई इस्माइल के अमेरिका जाकर शरण मांगने के बाद पाकिस्तान का जवाब देना मुश्किल हो चुका है। बता दें कि गुलालाई इस्‍माइल कई महीनों तक पाकिस्तान में छिपी थीं, लेकिन मौत के डर से वह किसी तरह बचकर अमेरिका पहुंची हैं और राजनीतिक शरण की मांग की है।

21-09-2019131908PakistanHuman2

जानकारी के मुताबिक, 32 वर्षीया गुलालाई अगस्त में अमेरिका पहुंच गई थीं। लेकिन इस सप्ताह ही सामने आईं हैं और ऐसे समय पर आई हैं जब पाकिस्तान बार बार भारत पर कश्मीरियों के मानवाधिकारों के उल्लंघन का राग अलाप रहा है। वहीं भारत का कहना है कि कश्मीर में स्थितियां सामान्य हो रही हैं लेकिन पाकिस्तान घाटी में आतंकियों की घुसपैठ कराकर अशांति फैलाने की फिराक में है। 

वैश्विक समुदाय भी भारत की इस बात को स्वीकार कर चुका है कि पाकिस्तान कश्मीर में आतंकवाद फैला रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत की इस बात का समर्थन करते हुए कहा कि 'पाकिस्तान के आतंकवादी जो कश्मीर में हिंसा फैला रहे हैं, वे कश्मीरियों और पाकिस्तान के दुश्मन हैं।' 

कश्मीर मुद्दे पर हड़कंप मचा रहा पाकिस्तान अपने ही देश के मानवाधिकार कार्यकर्ता को लेकर विश्व समुदाय के निशाने पर आ गया है। वरिष्ठ अमेरिकी पत्रकार डेकल्न वॉल्श ने गुलालाई इस्माइल को लेकर ट्वीट किया, 'पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता देश से बाहर भाग रहे हैं। आईएसआई के डर से वे ऐसा कर रहे हैं। यह ऐसा ही है, जैसे उत्तर कोरिया के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को देश छोड़ना पड़ता है।'

यह भी पढ़ें - कश्मीर से धारा 370 हटने से इमरान सरकार को हुआ ये बड़ा फायदा, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

Web Title: Pakistan Human Rights activist Gulalai Ismail reaches America ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया