उपचुनाव की तारीख से डोला येदियुरप्पा सिंहासन, शाह से गुहार लगाने दिल्ली पहुंचे


DEEP KRISHAN SHUKLA 22/09/2019 10:39:32
237 Views

New Delhi. उपचुनाव की तारीख घोषित होते ही कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार टेंशन में आ गयी है। यह टेंशन भाजपा और कांग्रेस जेडीएस के बागी विधायकों के चलते बढ़ी है। बता दें कि हरियाणा और महाराष्र्ट के साथ कर्नाटक की 15 सीटों पर भी उपचुनाव होने हैं जबकि बागी विधायकों की योग्यता का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। ऐसे में बागी विधायक राज्य में भाजपा के लिए मुशीबत का सबब बन सकते हैं। इस सिलसिले में येदियुरप्पा दिल्ली पहुंच गए है जहां वह राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने पूरी स्थिति रखेंगे। 

22-09-2019104624upchunavkita1
मालूम हो कि इसी साल लंबे सियासी ट्रामें के बाद 23 जुलाई को कर्नाटक की जेडीएस और कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार गिर गयी थी। 
यह दिन भाजपा विधायकों के लिए जश्न का दिन था लेकिन अब बगावत करने वाले विधायकों के सामने मुशीबत खड़ी हो गयी है। बता दें कि 15 विधायकों ने कुमारस्वामी सरकार से समर्थन वापस ले लिया था। 
ज्य के विधानसभा स्पीकर को इन विधायकों ने अपना इस्तीफा सौंपा था जिस पर स्पीकर इन सभी को 5 सालों के लिए अयोग्य घोषित कर दिया था। 
स्पीकर की कार्रवाई के विरोध में बागी विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट की शरण ली थी। जिसकी सुनवाई अभी तक सुप्रीम कोर्ट में चल रही है। 
इधर चुनाव की तिथियां घोषित हो गयी है। नामांकन पत्र दाखिल करने की तारीख 30 सितबंर है। सुप्रीम कोर्ट में बागी विधायकों के प्रकरण की सुनवाई 23 सितंबर को होनी है। 

22-09-2019104640upchunavkita2
कोर्ट इस मामले में कोई निर्णय लेती है यह सुनवाई के लिए अगली तिथि देती यह सुप्रीम कोर्ट पर निर्भर करता है। जबकि बागी विधायकों के पास मात्र आठ दिन का समय शेष है इस बीच अगर स्थित स्पष्ट नहीं होती है तो ये विधायक नामांकन नहीं करा सकते हैं। 
राज्य के पार्टी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कुछ विधायकों ने सीएम येदियुरप्पा के पीए अनआर संतोष से बंद कमरे में मुलाकात की।

बताया यह भी जा रहा है कि इन विधायकों ने भाजपा पर अपना वादा पूरा न करने का आरोप लगाया है। बता दें कि एनआर संतोष वही है जिनकी भूमिका राज्य के 'मिशन कमल' अहम रही थी। 

22-09-2019104707upchunavkita3
इस स्थिति के बाद मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने अपने खास लोगों के साथ बैठक की। जिसमें सरकार चलती रहने के​ लिए ज्यादा से ज्यादा सीटे जीतने और बागी विधायकों से किए गए वादे पर चर्चा हुई। 
इसके बाद येदियुरप्पा पार्टी आलाकमान से मिलने के लिए दिल्ली रवाना हो गए। यहां वह पार्टी आलाकमान से मुलाकात कर मामले दखल देने व बागी विधायकों को समझाने की बात कर सकते है। वह यहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से भी मुलाकात करेंगे। 

22-09-2019104852upchunavkita5
  राज्य निर्वाचन आयोग ने फंसाया पेंच
राज्य निर्वाचन आयोग से चुनाव लड़ने की अनुमति न मिलने के बाद बागी विधायकों में उहापोह की स्थिति है। आयोग ने साफ कर दिया है कि कोई भी बागी विधायक चुनाव नहीं लड़ सकता है। इसके बाद अब ये विधायक सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में स्टे लेने की योजना बना रहे हैं। अपने इस प्रयास में वे कितना सफल होते हैं यह तो सुप्रीम कोर्ट के जज ही तय करेंगे। 

यह भी पढ़ें...यूपी: विधानसभा उपचुनाव का कार्यक्रम जारी, जानिए कब, कहां और क्यों होगा चुनाव

 

 

 

 

 

 

Web Title: upchunav ki tarikh se dola Yeddyurappa ka singhasan, Shah se guhar lagane Delhi pahunche ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया