गंगा और सहायक नदियों में मूर्ति विसर्जन किया तो भरना पड़ेगा भारी भरकम जुर्माना


DEEP KRISHAN SHUKLA 04/10/2019 15:07:45
50 Views

Kanpur. त्योहार के सीजन में नदियों में मूर्ति विसर्जन करने की तैयारी कर रहें तो सावधान हो जाइए। आपकी यह गलती आप पर भारी जुर्माने का कारण बन सकती है। नदियों में बढ़ते प्रदूषण पर रोकथाम के लिए केंद्र सरकार की ओर से राज्य सरकारों को जो दिशा निर्देश जारी किए गए हैं उनमें से एक बिं​दु में नदियों में मूर्तियों के विसर्जन पर जुर्माने के प्रावधान का भी है। 

04-10-2019150959Ifyouimmerse1
मालूम हो कि गंगा और उसकी सहायक नदियों में बढ़ते प्रदूषण को लेकर केंद्र सरकार बेहद संजीदा है। गंगा को प्रदूषण से बचाने के लिए सरकार विभिन्न कार्यक्रम संचालित कर रही है। इसी कड़ी में सरकार ने राष्ट्रीय क्लीन गंगा मिशन की भी शुरूआत की है। 
गंगा में प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को 15 बिंदुओं में दिशा निर्देश जारी किए है। 
जिसके एक बिंदु में यह प्रावधान भी शामिल है कि राज्य सरकारें गंगा और इसकी सहायक नदियों में किए जाने वाले मूर्ति विसर्जन पर अपने स्तर से रोक लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाएं। 

04-10-2019151019Ifyouimmerse2
मिशन के महानिदेशक राजीव रंजन मिश्र ने बताया कि गंगा और उसकी सहायक नदियों में किसी भी तरह का मूर्ति विसर्जन पूर्णतय: प्रतिबंधित है। 
यदि कोई ऐसा करता पाया जाता है उससे 50 हजार रुपए का जुर्माना वसूल किया जाएगा। मालूम हो कि नवरात्रि समापन और दीपावली के पर्व पर अक्सर लोग मूर्तियां नदियों में विसर्जित करते हैं। 
ऐसा न होने पाए इसके लिए राज्य सरकार की ओर से इंतजाम किए जा रहे हैं। मूर्तियों का विसर्जन करने वालों पर निगरानी रखने की तैयारी भी राज्य सरकार कर रही है।

यह भी पढ़ें...आरक्षण पर बघेल सरकार को हाईकोर्ट ने दिया झटका

 

 

 

Web Title: If you immerse the idol in the Ganges and tributaries, you will have to pay a heavy fine ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया