#NewstimesTreding : राफेल पर फिर ट्रोल हुई मोदी सरकार 


GAURAV SHUKLA 09/10/2019 13:15:57
37 Views

09-10-2019131921Rafaleparfir1

Lucknow. रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार(8 अक्टूबर 2019) को दशहरा के मौके पर पेरिस के दसां एविएशन से पहले राफेल लड़ाकू विमान की डिलीवरी ली। इस दौरान उन्होंने शस्त्र पूजा के क्रम में राफेल पर रोली से ओम लिख कलावा बांधा, अक्षत छिड़के, नारियल रखा और राफेल के पहियों के नीचे नींबू कुचला। इस शक्तिशाली फाइटर एयरक्राफ्ट को किसी की बुरी नजर से बचाने के लिए यह किया गया। लेकिन पूजा की यह तस्वीरें सामने आने के साथ ही सोशल मीडिया पर लोगों ने सरकार को ट्रोल करना शुरु कर दिया। 

09-10-2019131941Rafaleparfir2

लोगों ने राफेल की पूजा पर सवाल उठाते हुए कहा कि भारत को सभी धर्मों के लोग टैक्स देते हैं फिर हिंदुत्व की राजनीति ही क्यों हो रही है? पूजा के दौरान नींबू को पहियों के नीचे कुचलने को ट्रोल करते हुए यूजर्स ने लिखा कि अब राफेल देश की और नींबू राफेल की रक्षा करेंगे। इसी के साथ कुछ ने तो यह भी सवाल किया कि क्या राफेल हिंदु हो गया है? 

09-10-2019131959Rafaleparfir3
बता दें कि राफेल को लेकर मोदी सरकार पर आरोप लगने की यह कोई पहली घटना नहीं है। राहुल गांधी ने तो राफेल के ही मुद्दे को लेकर अपनी कई चुनावी रैलियों में सरकार पर आरोप लगाते हुए चौकीदार चोर है शब्द का इस्तेमाल किया था। हालांकि उनके आरोपों को 14 दिसंबर 2018 को आए सुप्रीमो कोर्ट के फैसले से बड़ा झटका लगा था। जब कोर्ट की ओर से राफेल लड़ाकू विमान की खरीद में किसी भी तरह की गलती न दिखाई देने को लेकर टिप्पणी की गयी थी। इसी के बाद एनडीए और अन्य सहयोगी दलों द्वारा सुप्रीम कोर्ट से क्लीन चिट मिलने का दावा भी किया गया था। अहम दस्तावेजों को कोर्ट में सामने रखे होने पर याचिकाकर्ता(प्रशांत भूषण, अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा) ने इसे कोर्ट में चुनौती देया था। जिसके बाद कोर्ट ने केंद्र द्वारा समीक्षा याचिका की स्वीकार्यता पर उठाई प्रारंभिक आपत्ति को खारिज करते हुए पुनर्विचार याचिकाओं पर गुण दोष के आधार पर निर्णय और सुनवाई करने की बात कही थी। राफेल को लेकर फिर एक बार सुनवाई के मसले पर भी कांग्रेस ने सत्य की जीत बताते हुए मोदी सरकार पर करारा हमला बोला था। 
09-10-2019132201Rafaleparfir6
इसके बाद जनवरी 2019 में भी राफेल को लेकर राहुल गांधी ने पीएम पर जमकर हमला बोला था। उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि लगता है पीएम राफेल पर संसद में होने वाली अपनी खुली किताब परीक्षा से भाग गये हैं। वह पंजाब की लवली विश्विद्यालय में छात्रों को लेक्चर दे रहे हैं। मेरा अनुरोध है कि वह ससम्मान मेरे चार सवालों का जवाब दे दें जो मैनें उनसे किये थे। राहुल ने अपने सवालों को लेकर ट्वीटर पर लिखा था कि, कल संसद में राफेल डील पर पीएम मोदी का ओपन बुक एग्जाम है। एग्जाम में आने वाले सवाल यहां पहले से दिए जा रहे हैं। 
पहले सवाल- एयरफोर्स को 126 एयरक्राफ्ट की जरूरत थी फिर 36 एयरक्राफ्ट ही क्यों खरीदे? 
दूसरा सवाल- 560 करोड़ की जगह एक एयरक्राफ्ट खरीदने के लिए 1600 करोड़ रुपए क्यों खर्च किए गए? 
चौथा सवाल- एचएएल के बजाय AA (अनिल अंबानी) को क्यों चुना?

09-10-2019132119Rafaleparfir4
इन सवालों को पूछने पर स्वंय राहुल गांधी भी ट्रोल हुए थे जब उन्होंने तीसरा सवाल छोड़ते हुए चौथा पूछ लिया था। जिस पर उन्होंने देर रात ट्वीट किया था कि उन्होंने ऐसा जानबूझ किया, लेकिन लोगों की मांग पर तीसरा सवाल पूछ रहे हैं। इस सवाल में राहुल ने मोदी से पूछा- मोदी जी प्लीज बताइए कि आखिर पर्रिकर जी ने राफेल की फाइल अपने बेडरूम में क्यों रखी थी? इसके बाद में उन्होंने तंज कसते हुए यह भी कहा कि मोदी इन चारों सवालों के जवाब खुद देंगे या किसी प्रॉक्सी को भेजेंगे‌? 

09-10-2019132148Rafaleparfir5

 

Web Title: Rafale par fir troll hui modi sarkar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया