कांशीराम भी जानते थे लोग देंगे बीएसपी मूवमेंट को चुनौती, ऐसे मुकाबला संभव : मायावती 


GAURAV SHUKLA 09/10/2019 17:37:32
197 Views

Lucknow. कांशीराम पुण्यतिथि पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। मायावती ने कहा कि कांशीराम ने हमेशा ही उपेक्षितों के हित में आवाज उठाई। उन्होंने भी कांशीराम के ही सपनों को पूरा करने का संकल्प लिया है। 

09-10-2019174046kanshiramkij1
मायावती ने कहा कि कांशीराम भी जानते थे कि जातिवादी और संकीर्ण ताकतें बीएसपी मूवमेंट को चुनौती देने के लिए साम, दाम, दण्ड, भेद का इस्तेमाल करते रहेंगे। इसलिए उनका मुकाबला सूझबूझ से ही संभव है। उनकी इस बात का सबसे अच्छा उदाहरण यूपी में देखा जा सकता है। इसी के साथ बसपा सुप्रीमों ने पुण्यतिथि के मौके पर कई ट्वीट भी किये। अपने ट्वीट ने उन्होंने लिखा कि, 


बामसेफ, डीएस4 व बीएसपी मूवमेन्ट के जन्मदाता व संस्थापक मान्य श्री कांशीरामजी को आज उनकी पुण्यतिथि पर बीएसपी द्वारा देश व विशेषकर यूपी में अनेकों कार्यक्रमों के जरिए भावभीनी श्रद्धांजलि व श्रद्धा-सुमन अर्पित। उपेक्षितों के हक में उनका संघर्ष था वोट हमारा राज तुम्हारा नहीं चलेगा।
दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज रोड पर स्थित प्रेरणा केन्द में तथा लखनऊ में बीएसपी सरकार द्वारा वीआईपी रोड में स्थापित भव्य मान्यवर श्री कांशीरामजी स्मारक स्थल के आयोजनों में बहुजन नायक मा. श्री कांशीराम जी को पुष्पांजलि व श्रद्धा-सुमन अर्पित। उनके सपनों को साकार करने का संकल्प।
बाबा साहेब डा भीमराव अम्बेडकर के आत्म-सम्मान व स्वाभिमान के मूवमेन्ट को समर्पित श्री कांशीरामजी जानते थे कि जातिवादी व संकीर्ण ताकतें साम, दाम, दण्ड, भेद आदि हथकण्डों से BSP मूवमेन्ट को चुनौतियाँ देती रहेंगी जिसका सूझबूझ से मुकाबला करके आगे बढ़ना है जिसका बेहतरीन उदाहरण यूपी है।

Web Title: kanshiram ki jayanti par hamlavar hui mayawati ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया