एनकाउंटर मामले में मचा घमासान, अखिलेश यादव के पहुंचते ही ये सांसद हुआ गिरफ्तार


RAJNISH KUMAR 10/10/2019 08:43 AM
1453 Views

Lucknow. प्रदेश के झांसी में पुष्पेन्द्र एनकाउंटर (Pushpendra Encounter) को लेकर यूपी पुलिस (UP Police) घिरती नजर आ रही है। वहीं, समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party), कांग्रेस (Congress) और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (Pragatisheel Samajwadi Party) ने योगी सरकार (Yogi Government) की कार्यशैली पर सवाल खड़े किये। विपक्षी दलों के नेता पुष्पेन्द्र के घर ढांढस बंधाने पहुंचे। इसी कड़ी में पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) भी पहुंचे। उन्होंने पुष्पेन्द्र के परिजनों को हरसंभव मदद को भरोसा दिलाया और मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की। इस मामले को बढ़ता देख पुलिस ने आनन-फानन में भारी फोर्स तैनात कर दी और शांतिभंग के आरोप में प्रदर्शन करने वाले सांसद चंद्रपाल यादव (MP Chandrapal Yadav) सहित 39 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। 

jhansi encounter mamle me macha ghamasan

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) बुधवार को पुष्पेन्द्र के गांव करदुआं खुर्द पहुंचे। उन्होंने पुष्पेन्द्र के परिजनों को मदद का आश्वासन दिया। अखिलेश (Akhilesh Yadav) ने कहा कि बीजेपी (BJP) सरकार में सत्ता का दंभ अब सिर चढ़कर बोल रहा है। उन्होंने कहा कि पुष्पेन्द्र का एनकाउंटर नहीं हत्या है। 

शांतिभंग के आरोप में 39 नेता गिरफ्तार

सपा नेताओं के साथ राज्य सभा सांसद चंद्रपाल यादव सहित सैकड़ों लोग एनकाउंटर के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे। पुलिस ने प्रदर्शन करने पहुंचे समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेताओं और सांसद चंद्रपाल यादव सहित 39 लोगों को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं, ग्रामीणों ने पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए पुष्पेन्द्र के हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की। 

jhansi encounter mamle me macha ghamasan

सीबीआई से कराई जाए जांच

इससे पहले प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (Pragatisheel Samajwadi Party) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) के बेटे आदित्य यादव (Aditya Yadav) पुष्पेन्द्र के परिवार के ढांढस बंधाने पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि यह एनकाउंटर नहीं हत्या है। योगी सरकार में लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है। घूसखोरी को छिपाने के लिए पुलिस ने एक बेगुनाह को मार डाला और अपनी करतूत को छिपाने के लिए एनकाउंटर की शक्ल दे दी है। वहीं, कांग्रेस (Congress) नेताओं ने भी योगी सरकार में हुए सभी एनकाउंटरों की सीबीआई (CBI) से जांच कराने की मांग की है। 

jhansi encounter mamle me macha ghamasan

एडीजी ने निष्पक्ष जांच की बात कही

पुष्पेन्द्र एनकाउंटर (Pushpendra Encounter) मामले को बढ़ता देख एडीजी एलओ पीवी रामाशास्त्री (ADG PV RamaShartri) ने प्रेस काॅन्फ्रेंस कर निष्पक्ष जांच कराने की बात की। एडीजी ने बताया कि पुष्पेन्द्र पर पहले से पांच केस दर्ज थे। उन्होंने कहा कि पुलिस ने कानून के मुताबिक की काम किया है। उन्होंने बताया कि मामले मजिस्ट्रेटी जांच हो रही है। पुलिस राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की गाइडलाइन का भी पालन कर रही है। उन्होंने कहा कि एनकाउंटर से पहले पुष्पेन्द्र पर 2014 और 2015 में पांच मुकदमे दर्ज थे।

यह भी पढ़ें... 

युवा कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या, कांग्रेसियों में रोष

जम्मू कश्मीर में कांग्रेस ने बीडीसी चुनाव का किया बहिष्कार

Web Title: jhansi encounter mamle me macha ghamasan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया