विश्व दृष्टि दिवस : विश्व में तेजी से बढ़ रही है नेत्रहीनता


DEEPAK MISHRA 10/10/2019 12:19:29
224 Views

LUCKNOW: आज विश्व दृष्टि दिवस (World Sighy Day) है, यह  प्रतिवर्ष अक्टूबर महीने के दूसरे गुरुवार को 1976 से मनाया जा रहा है। इस वर्ष यह दिवस गुरुवार 10 अक्टूबर को मनाया जा रहा है। विश्व दृष्टि दिवस (World Sighy Day) दृष्टिहीनता से बचने और नेत्रहीनों को नेत्र दान करने के लिए डब्ल्यूएचओ द्वारा लोगों में जागरुकता पैदा करने के लिए मनाया जाता है। विश्व दृष्टि दिवस (World Sighy Day) डब्ल्यूएचओ के 'विज़न 2020 : दृष्टि के अधिकार की वैश्विक पहल के तहत अंतर्राष्ट्रीय दृष्टिहीनता रोकथाम एजेंसी (आईएपीबी) द्वारा समन्वित है। यह दिवस विश्व में तेजी से बढ़ रही है नेत्रहीनता, धुंधली दृष्टि (खराब दृष्टि), अंधापन के साथ-साथ दृष्टि संबंधित समस्याओं के बारे में जागरूक के लिए मनाया जाता है।

10-10-2019123105WorldVisionD1

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) के एक अनुमान के अनुसार, विश्वभर में लगभग 285 मिलियन लोग नेत्रहीन हैं। इनमें से 39 लाख लोग अंधे और 246 मिलियन लोग मध्यम या गंभीर दृष्टि दोष वाले हैं। दृष्टि दोष के प्रमुख कारणों में असंशोधित अपवर्तक कमियां (43%) और मोतियाबिंद (33%) हैं। अधिकांश अंधेपन (लगभग 80 %) का बचाव यानि कि उपचार या रोकथाम की जा सकती है। 

आज भी इतनी जनजागरुकता पैदा करने के बाद भी पूरी दुनिया में जरूरत मंदो के लिए नेत्रदान (Eye Donate) करने वालों का आंकड़ा बहुत अच्छा नहीं है। नेत्रदान और कार्निया प्रत्यारोपण (Corneal Transplant) के वर्तमान आंकड़ों पर गौर करें तो इसके दानदाता एक प्रतिशत से भी कम हैं। यही वजह है कि देश में 25 लाख लोग अभी भी दृष्टिहीन हैं। देश में हर साल 80 से 90 लाख लोगों की मृत्यु होती है लेकिन नेत्रदान 25 हजार के आसपास ही होता है।

यह तो हर कोई जानता है कि आंख हर व्यक्ति के शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है और अगर वही नहीं है तो व्यक्ति का जीवन किसी काम का नहीं। ऐसे लोगों की मदद के लिए अधिक से अधिक नेत्रदान कराने के लिए आई बैंक (Eye Bank) और तमाम सामाजिक संस्थाओं की ओर से जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाते हैं। अक्तूबर के दूसरे बृहस्पतिवार को हर साल विश्व दृष्टि दिवस भी मनाया जाता है. इसका मकसद आंखों की बीमारियों और समस्याओं को लेकर लोगों को जागरूक करना है।

10-10-2019123138WorldVisionD2

आंखों के कमजोर होने का कारण

बहुत देर तक कंप्यूटर (Computer) पर काम करना, टीवी देखना, मोबाइल देखना, कम रोशनी में पढ़ना, हरी सग सब्जियों का सेवन कम करना, सूर्य की रोशनी का सीधे आंख पर लगना, चोट लगना, और  धूम्रपान का सेवन करना आदि बहुत से करण है। 

आंखों की देखभाल कैसे करें 

- अच्छी दृष्टि के लिए स्वस्थ आहार का सेवन करें।

- संतुलित आहार का सेवन करें।

- अपने आहार में हरी पत्तेदार सब्जियों, अंडे, फलियों एवं गाजर को अधिक से अधिक मात्रा में शामिल करें।

- धूम्रपान, मोतियाबिंद, ऑप्टिक एवं तंत्रिका क्षति के साथ-साथ दृष्टि से संबंधित कई तरह की समस्याओं को पैदा कर सकता है।

- सूर्य की रोशनी के प्रत्यक्ष प्रभाव को रोकने के लिए यूवी संरक्षित धूप का चश्मा पहनें, जो कि आपकी आंखों की सुरक्षा के लिए बेहतर है।

- यदि आप कार्यस्थल पर खतरनाक पदार्थों से काम करते हैं, तो आपको अपनी आंखों की रक्षा करने के लिए सुरक्षा चश्मा अवश्य पहनना चाहिए।

- यदि आप लंबी अवधि तक कंप्यूटर पर काम करते हैं, तो यह सुनिश्चित करें, कि आप अक्सर बीच-बीच में उठेंगे, आँखों का सूखापन कम करने के लिए आँखों को अधिक से अधिक बार झपकें।

- टेलीविजन देखते या कंप्यूटर पर काम करते हुए एंटी ग्लेयर चश्मा पहनने की सलाह दी जाती है। मंद प्रकाश में न पढ़े। यह आंखों को होने वाली परेशानियों के प्रमुख कारणों में से एक है।

- आंखों के बेहतर स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अपनी आंखों की नियमित जांच कराएं।

- खिड़कियों एवं लाइट द्वारा कंप्यूटर पर पड़ने वाली चकाचौंध से बचने की कोशिश करें। यदि आवश्यक हों, तो एंटी ग्लेयर स्क्रीन का उपयोग करें।

- यदि आप कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं, तो उन्हें लंबी अवधि तक पहनने से बचें, कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हुए तैराकी एवं सोने से बचें।

- अपनी आंखों को आराम देने के लिए हर बीस मिनट में बीस फीट की दूरी पर बीस सेकंड के लिए देखें।

Web Title: World Vision Day: Blindness is increasing rapidly in the world ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया