कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का सलाहकार बनने से वरिष्ठ नेता का इनकार, कहा- मेरी हैसियत...


RAJNISH KUMAR 10/10/2019 18:12 PM
853 Views

Lucknow. उत्तर प्रदेश में कांग्रेस (UP Congress) अपने खोये जनाधार को फिर से वापस पाने की कोशिशों में लगी हुई है। इसी कड़ी में कांग्रेस (Congress) हाईकमान ने प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है। अब प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) को नई टीम भी मिल गई है, अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) को प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है, लेकिन इस बीच एक बड़ी खबर है। दरअसल, कांग्रेस के पूर्व सांसद राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra) ने प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) का सलाहकार बनने से इनकार कर दिया है।

priyanka gandhi ka salahkar banne se kiya mana

प्रभारी का पद भी संभालने से किया था मना

वाराणसी से कांग्रेस (Congress) के सांसद रहे और लोकसभा चुनाव 2019 में सलेमपुर सीट से प्रत्याशी रहे राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra) को प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के सलाहकार के तौर पर कार्यभार सौंपा गया था, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) को सलाह देने की उनकी हैसियत नहीं है। उन्होंने कहा कि हमने अपने फैसले से प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi Vadra) के कार्यालय को अवगत करा दिया गया है। हालांकि इससे पहले उन्होंने लखनऊ कैंट सीट के प्रभारी का पद भी संभालने से मना कर दिया है। 

यह भी पढ़ें - भारतीय सेना की बड़ी जवाबी कार्रवाई: पाकिस्तान के तीन पोस्ट तबाह, एक सैनिक को मार गिराया

कांग्रेस को दी आत्ममंथन करने की सलाह

उन्होंने कांग्रेस (Congress) को देश के मौजूदा राजनीतिक हालातों के अनुसार आत्ममंथन की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस (Congress) को देश के मौजूद राजनीतिक हालातों को देखते हुए जो करना चाहिए, लेकिन वो नहीं कर पा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को कार्यकर्ताओं के मनोबल को बढ़ाने के लिए कुछ नए कदम उठाने चाहिए। 

यह भी पढ़ें - कांग्रेस नेता सचिन पायलट का ये दावा सच हुआ तो बीजेपी को होगा बड़ा नुकसान

कांग्रेस से नाराज हैं राजेश मिश्रा

राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra) ने कहा कि कांग्रेस (Congress) को जमींनी, निष्ठावान और मेहनती लोगों को आगे बढ़ाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अनुशासन समिति और प्रभारियों को पार्टी नेताओं की अनावश्यक बयानबाजी का संज्ञान लेकर स्थिति को सामान्य बनाने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए। माना जा रहा है कि कांग्रेस (Congress) की ओर यूपी में गठित की गई नई कार्यकारिणी से राजेश मिश्रा (Rajesh Mishra) नाराज हैं, जिसे लेकर उन्होंने यह कदम उठाया है।

यह भी पढ़ें - पीएम मोदी के नए विमान से ही छूटेंगे दुश्‍मनों के पसीने, जानिये क्‍या है खास

Web Title: priyanka gandhi ka salahkar banne se kiya mana ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया