बीजेपी के बागी नेता को कांग्रेस ने सौंपी दिल्ली की कमान, ये है वजह


RAJNISH KUMAR 12/10/2019 12:37 PM
897 Views

New Delhi. भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) से दरभंगा से तीन बार सांसद रहे बागी नेता कीर्ति आजाद (Kirti Azad) ने 2019 में कांग्रेस (Congress) पार्टी ज्वाइन की थी। कांग्रेस (Congress) के टिकट पर लोकसभा चुनाव 2019 (Loksabha Election 2019) लड़ा, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा। हालांकि अब कांग्रेस (Congress) ने उन्हें दिल्ली की कमान सौंप दी, वह शीला दीक्षित (Sheela Dixit) की जगह लेंगे। अभी उनके नाम की औपचारिक घोषणा होना बाकी है। बता दें कि दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित (Sheela Dixit) के निधन के बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का पद खाली है।

bjp ke bagi neta ko congress ne di delhi ki maman

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित (Sheela Dixit) ने 15 साल संगठन पर नजर रखी। दिल्ली में उन्होंने सभी लोगोें का समर्थन हासिल किया था, लेकिन उनके निधन के बाद सोनिया गांधी (Soniya Gandhi) ने पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद (Kirti Azad) को दिल्ली की कमान सौंपने की ऐलान किया है। बताया जा रहा है कि पूर्वांचल और बिहार के मतदाताओं को साधने के लिए कीर्ति आजाद (Kirti Azad) को जिम्मेदारी सौंपी गई है। कीर्ति आजाद (Kirti Azad) बिहार से हैं।

सोनिया गांधी ने खेला पूर्वांचल कार्ड

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) का मानना है कि दिल्ली में करीब 30 फीसदी वोटर पूर्वांचल से हैं, जो तीस विधानसभा क्षेत्रों की जीत में अहम भूमिका निभाते हैं। इसलिए बीजेपी ने मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) और आम आदमी पार्टी (Aam Admi Party) ने गोपाल राय (Gopal Rai) को जिम्मेदारी दे रखी है, ये दोनों नेता बिहार से ही हैं। ऐसे में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने भी पूर्वांचल कार्ड खेला है। कीर्ति आजाद (Kirti Azad) भी बिहार (Bihar) से आते हैं।

bjp ke bagi neta ko congress ne di delhi ki maman

गुटबाजी न हो इसलिए आजाद को सौंपी जिम्मेदारी

बता दें कि शीला दीक्षित (Sheela Dixit) के मुख्यमंत्री रहने के दौरान कांग्रेस (Congress) में गुटबाजी कम ही देखने को मिलती थी, लेकिन उनके निधन के बाद कांग्रेस (Congress) पार्टी कई गुटों में बंटी हुई नजर आ रही है। ऐसे मेें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने दिल्‍ली में नए कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष के लिए पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की, सोनिया को अंदाजा हो गया था कि गुटबाजी काफी तेज है। इसके बाद कांग्रेस ने कीर्ति आजाद (Kirti Azad) को दिल्ली कांग्रेस की कमान सौंपी है, क्योंकि उनका कोई गुट नहीं है।

यह भी पढ़ें - 

कमलनाथ सरकार ने शिवराज पर लगाया करोड़ो के घोटाले का आरोप, EOW से की शिकायत

उपचुनाव: मायावती ने दिग्गज नेता को दिया ऐसा सबक, पार्टी में मचा भूचाल

Web Title: bjp ke bagi neta ko congress ne di delhi ki maman ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया