ब्लैकलिस्ट होने से बचा पाकिस्तान, FATF ने फरवरी तक दी सुधरने की मोहलत


NP1509 18/10/2019 15:48 PM
23 Views

New Delhi. टेरर फंडिंग मामले में आतंकियों के हमदर्द पाकिस्तान के लिए थोड़ी राहत की खबर है। फिलहाल वह ब्लैकलिस्ट होने से बच गया है और कुछ महीनों की मोहलत मिल गयी है। दरअसल, फाइनैंशल ऐक्शन टास्ट फोर्स (एफ़एटीएफ़) ने शुक्रवार को पाकिस्तान को सख्त निर्देश देते हुए फरवरी 2020 तक मोहलत दी है। चीन, मलेशिया और तुर्की के समर्थन के कारण पाकिस्तान ब्लैकलिस्ट होने से बच गया। 

FATF grants Pakistan till February 2020 in Terror funding case

एफ़एटीएफ़ ने शुक्रवार को पाकिस्तान को सख्त निर्देश देते हुए कहा है कि फरवरी 2020 तक वह पूरा ऐक्शन प्लान तैयार कर उस पर आगे बढ़े। अगर वह निर्धारित समय तक ऐसा करने में नाकाम रहता है तो वह सख्त कार्रवाई के लिए तैयार रहे। इसके अलावा एफ़एटीएफ़ ने पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह के वित्तीय लेन-देन और व्यापार पर भी नजर रखने के निर्देश दिए हैं।

माना जा रहा है कि एफएटीएफ ने भले ही अभी पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में ही रखा है, लेकिन आतंक के खिलाफ पर्याप्त कदम नहीं उठाने के कारण आनेवाले कुछ सालों में उसके लिए इस लिस्ट से बाहर निकलना नामुमकिन है। साथ ही एफएटीएफ ने ऐसे संकेत भी दे दिए हैं जिनसे पाकिस्तान के 2020 फरवरी में ब्लैकलिस्ट किए जाने की पूरी संभावना है। 

यह भी पढ़ें:-...आईएनएक्स मीडिया केस: सीबीआई ने पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदम्बरम सहित 14 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की

एफ़एटीएफ़ नियमों के मुताबिक, ग्रे और ब्लैक लिस्ट के बीच डार्क ग्रे की भी कैटिगरी होती है। 'डार्क ग्रे' का अर्थ है सख्त चेतावनी, जिससे संबंधित देश को सुधार का एक अंतिम मौका मिल सके।

गौरतलब है कि पिछले साल जून में अंतर्राष्ट्रीय संस्था एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाला था। इसके साथ 27 पॉइंट का ऐक्शन प्लान देते हुए एक साल का समय दिया था। जिसमें पाकिस्तान को मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकी संगठनों की टेरर फंडिंग रोकने के उपाय करने थे। वहीं, अब यह मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकियों व उनके संगठनों के खिलाफ ठोस कदम उठाने में नाकाम पाकिस्तान के लिए एफ़एटीएफ़ की ओर से सुधरने की अंतिम चेतावनी की तरह है।

Web Title: FATF grants Pakistan till February 2020 in Terror funding case ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया