क्या बीजेपी को आइना दिखाकर शिवसेना अब एनसीपी और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बनाएगी?


NP1357 26/10/2019 13:01 PM
748 Views

New Delhi. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) भले ही सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी हो, लेकिन अब उसका सहयोगी दल शिवसेना (Shiv Sena) भी सख्त दिखाई दे रहा है। दरअसल, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Udhav Thakre) ने मतगणना के दौरान ही बीजेपी (BJP) को अपने 50-50 के वादे को निभाने की बात कही है। हालांकि शिवसेना (Shiv Sena) के वरिष्ठ नेता ने अब एक काॅर्टून शेयर किया है, जिसमें एक बाघ (शिवसेना का पार्टी निशान) है और उसके गले में घड़ी वाला लाॅकेट (एनसीपी का निशान) है और पंजे में कमल का फूल (बीजेपी का निशान) है। इस कार्टून के आते ही तमाम कयास लगाये जा रहे हैं। 

kya ncp and congress ke sath milkar sarkar banayegi shivena

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में 2014 के विधानसभा चुनावों के दौरान भी भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी, तब बीजेपी (BJP) ने अकेले चुनाव लड़ा था। उस दौरान बीजेपी (BJP) को 122, शिवसेना (Shivsena) को 63, कांग्रेस (Congress) को 42 और एनसीपी (NCP) को 41 सीटें मिलीं थी।

बीजेपी (BJP) ने शिवसेना (Shiv Sena) की अनदेखी कर एनसीपी (NCP) के साथ मिलकर सरकार बना ली थी। हालांकि बाद में बदले समीकरणों के साथ शिवसेना (Shivsena) भी बीजेपी (BJP) सरकार में शामिल हो गई। शिवसेना (Shivsena) भले ही सरकार में शामिल हो गई थी, लेकिन किसी भी नेता को बड़े विभागों में जगह नहीं दी गई थी। 

बीजेपी से बदला लेने के मूड में शिवसेना

इसके बाद लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के विपक्ष में शिवसेना (Shivsena) खड़ी हो गई थी, लेकिन बाद में दोनों ने एक साथ चुनाव लड़ा था। इसी तरह विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) भी दोनों पार्टियों ने मिलकर लड़ा है।

इस बार के विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) में बीजेपी (BJP) की सीटें 122 से घटकर 105 रह गई हैं, जबकि शिवसेना (Shiv Sena) की सीटें 63 से घटकर 56 हो गई हैं। वहीं, कांग्रेस (Congress) को 44 और एनसीपी (NCP) को 54 सीटें मिली हैं। ऐसे में अब शिवसेना 2014 के विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) वाला बदला बीजेपी (BJP) से लेने के मूड में दिख रही है। 

शिवसेना ने 50-50 का वादा दिलाया याद

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Udhav Thakre) ने मतगणना वाले दिन प्रेस काॅन्फ्रेंस कर बीजेपी (BJP) को चेता दिया था। उन्होंने कहा था कि बीजेपी (BJP)अपने वादे 50-50 को निभाये। हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया था कि 50-50 फाॅर्म्यूला क्या है।

कयास लगाये जा रहे हैं कि शिवसेना (Shivsena) और बीजेपी (BJP) दोनों दलों से ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री बनाने सहमति हो या अहम मंत्रालयों में ये फाॅर्म्यूला (Formula) लागू हो, ये अभी भविष्य के गर्भ में है। 

kya ncp and congress ke sath milkar sarkar banayegi shivena

पीएम मोदी और अमित शाह ने देवेन्द्र फडणवीस को दी बधाई

वहीं, मतगणना के बाद भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पार्टी मुख्यालय पर प्रेस काॅन्फ्रेंस कर मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) को जीत की बधाई और दूसरे कार्यकाल के लिए शुभकामनाएं भी दे दी थी।

इसके बाद से माना जाने लगा था कि महाराष्ट्र में अगले मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) होंगे। हालांकि अब शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत (Sanjay Raut) की ओर से किये गये ट्वीट ने बीजेपी (BJP) की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। 

कार्टून ने बढ़ाई मुश्किलें

संजय राउत (Sanjay Raut) ने एक कार्टून शेयर किया, जिसमें एक बाघ (शिवसेना का पार्टी निशान) है और उसके गले में घड़ी वाला लाॅकेट (एनसीपी का निशान) है और उसके पंजे में कमल का फूल (बीजेपी का निशान) है। इसके साथ ही ट्वीट में लिखा है, व्यंग्य चित्रकाराची कमाल! बुरा न मानो दीवाली है...। इस कार्टून के सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है शिवसेना (Shiv Sena), एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) के साथ मिलकर सरकार बना सकती है, हालांकि मुश्किलें कम नहीं हैं।

यह भी पढ़ें -

आज राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे मनोहर लाल खट्टर

हरियाणा में खत्म हुआ सस्पेंस, भाजपा का होगा सीएम और जेजेपी का डिप्टी सीएम

अयोध्या में आज जगमगाएंगे 5 लाख 51 हजार दीये, बनेगा विश्व रिकॉर्ड

Web Title: kya ncp and congress ke sath milkar sarkar banayegi shivena ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया