लोकतंत्र में पुलिस को पब्लिक फ्रेंडली होना चाहिए : सीएम योगी आदित्यनाथ


NP863 02/11/2019 10:16 AM
45 Views

Lucknow.  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आज यहाँ लोक भवन में वर्ष 2014 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारियों ने भेंट की। उल्लेखनीय है कि भारतीय पुलिस सेवा के इन अधिकारियों को पहली बार जनपदों का प्रभार दिया गया है।

CHief minsiter yogi adityanath
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को जनपद का प्रभार दिये जाने पर बधाई देते हुये कहा कि आप सभी के लिए यह एक चुनौती है। आप सभी को समय से पूर्व जनपदों का प्रभार दिया जा रहा है। जनपद में यह आप सभी की पहली तैनाती है। यह एक बहुत महत्वपूर्ण दायित्व है। इस दौरान आपकी कार्यपद्धति आपके आगामी 30-35 वर्ष के जीवन व कैरियर को दिशा देगी। पुलिस अधीक्षक के रूप में तैनाती के दौरान आप सभी द्वारा किये जाने वाले अच्छे कार्य सदैव आपके साथ रहेंगे। यह कार्य आपके पूरे कैरियर को उज्ज्वल बना सकते हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाला समय संवेदनशील है। इसे ध्यान में रखते हुये आप सभी तैयारी करें और योजना बनाकर अपने जनपदों में कार्य करें। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में पुलिस को पब्लिक फ्रेंडली होना चाहिए। इसके दृष्टिगत जनपदों में सभी सम्बन्धित पक्षों यथा धर्मगुरुओं, सामाजिक, सांस्कृतिक व राजनैतिक संगठनों आदि से संवाद बनाकर कार्य किया जाए।

यह भी पढ़ें... आवास दिलाने के बहाने घर पर बुलाकर सामूहिक बलात्कार और हत्या के मामले में समाजवादी कमेटी हुई गठित
मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर पुलिसिंग व कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए अधिकारी फुट पेट्रोलिंग पर विशेष ध्यान दें। पीस कमेटी की नियमित बैठकें की जाएं। डायल ‘112’ का रूट चार्ट तैयार कर, वाहनों को व्यवस्थित किया जाए। उपद्रवी तत्वों पर निगाह रखी जाए तथा आवश्यकतानुसार उन्हें निरुद्ध करने की कार्यवाही की जाए। अपराधियों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाए। उन्होंने कहा कि जन सामान्य में पुलिस के प्रति विश्वास होना चाहिए तथा आमजन में पुलिस की अपने हितैषी की छवि होनी चाहिए। अधिकारीगण द्वारा इसके लिए आवश्यक कार्यवाही की जाए।

up ips officers
मुख्यमंत्री ने पुलिस अधीक्षक औरैया सुनीति के कार्यों की सराहना करते हुये कहा कि पहली बार जनपदों का प्रभार प्राप्त कर रहे भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी जनपदों में कुछ विशेष कार्य करके दिखाएं। उन्होंने कहा कि संदिग्ध लोगों के विरूद्ध कार्यवाही की की जाए। थानाध्यक्षों की तैनाती पारदर्शी ढंग से की जाए। बेहतर पुलिसिंग के लिए कम्युनिटी पुलिसिंग के तौर तरीके अपनाये जाएं।

यह भी पढ़ें... व्यक्ति के जीवन मूल्य उसके द्वारा दिये गए सकारात्मक योगदान से प्रदर्शित होते : डॉ रहीस सिंह
मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस लाइन एवं पुलिस थानों के रख रखाव पर विशेष ध्यान दिया जाये। अधिकारी थानों की बेहतर व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कार्य करें। विवेचना की कार्यवाहियों आदि को भी चेक किया जाये। यदि कोई पुलिसकर्मी गलत कार्य कर रहा है तो उसके विरूद्ध कार्यवाही करें। पुलिस सेवा 24 घंटे की है। अधिकारी यह ध्यान रखें कि उनकी निष्ठा व आचरण पर कोई आंच न आये। इस अवसर पर पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह, अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश कुमार अवस्थी, सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद उपस्थित थे।

Web Title: loktantra me police ko publice friendly hona chahiye ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया