योगी सरकार ने 7 पीपीएस अफसरों को किया जबरन रिटायर


NP863 07/11/2019 16:34:26
27 Views

Lucknow. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन दिनों भ्रष्टाचार और कार्य में ढिलाई को लेकर बेहद सख्त नजर आ रहे हैं। उनकी सख्ती का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 7 पीपीएस अफसरों को नौकरी से बर्खास्त करके दिखा दिया है। बता दें कि शासन ने सात पुलिस उपाधीक्षकों को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी हैं। 

07-11-2019163623yogisarkarne1
इन सात अफसरों में सहायक सेनानायक 15वीं वाहिनी पीएसी आगरा अरुण कुमार, फैजाबाद में डिप्टी एसपी विनोद कुमार राणा, आगरा में डिप्टी एसपी नरेंद्र सिंह राणा,

सहायक सेनानायक 33वीं वाहिनी पीएसी झांसी रतन कुमार यादव,सहायक सेनानायक 27वीं वाहिनी पीएसी सीतापुर तेजवीर सिंह यादव, डिप्टी एसपी मुरादाबाद संतोष कुमार सिंह तथा सहायक सेनानायक 30वीं वाहिनी पीएसी गोंडा में कार्यरत तनवीर अहमद खां का नाम शामिल है। इन्हें जबरन सेवानिवृत्ति देने का कारण इन सभी की आयु 50 वर्ष या इससे अधिक है और इनके ऊपर कार्य में शिथिलता बरतने व दूसरे कई आरोप लगे हैं।

यह भी पढ़ें... बसपा में अब कोऑर्डिनेटर, मंडल व जोन व्यवस्था भंग, सेक्टर व्यवस्था लागू
गौरतलब है कि सरकार ने स्क्रीनिंग कमेटी की रिपोर्ट पर निर्णय लेते हुए इन सभी अफसरों को सेवानिवृत्ति दी है। इसी के सात सभी विभागों के सुस्त तथा भ्रष्टाचार में संलिप्त कर्मचारियों पर भी नजर रखी जा रही है। ज्ञात हो कि 16 नवंबर 2017 को भी 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले 16 दागदार अफसरों को रिटायर कर दिया था। इन 16 अफसरों समेत अभी तक 2 वर्षों में अलग-अलग विभागों के 200 से ज्यादा अफसरों और कर्मचारियों को जबरन रिटायर किया जा चुका है। 

Web Title: yogi sarkar ne 7 afsaro ko kiya ritier ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया