पीएमओ तक पहुंची जेएनयू बवाल की गूंज, रिपोर्ट तलब


NP1534 12/11/2019 09:00:36
37 Views

- हॉस्टल फीस वृद्धि के विरोध में छात्रों ने किया था प्रदर्शन
New Delhi. बीते दिन जेएनयू में हुए बवाल का मामला राष्ट्रपति और पीएमओ तक पहुंच गया है। इस मामले को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी गयी है। इस मसले पर केंद्र सरकार की गंभीरता को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि अगले सप्ताह तक कुछ सार्थक परिणाम देखने को मिल सकते हैं। 

12-11-2019090827JNUruckusrea1
 

मालूम हो कि हॉस्टल की फीस बढ़ाए जाने के विरोध में जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्रों ने सोमवार को जबरदस्त प्रदर्शन किया था।

भारी संख्या में सड़क पर उतरे छात्रों ने कैंपस के बाहर जबदस्त प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की थी। छात्रों को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार भी की थी।

यह प्रदर्शन उस समय हुआ था जब जेएनयू में दीक्षांत समारोह चल रहा था। प्रदर्शन के चलते कार्यक्रम में शिरकत करते आने केंद्रीय मंत्री भी घंटों कैंपस में फंसे रहे थे। 

12-11-2019090933JNUruckusrea2
 

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक छात्रों के इस प्रदर्शन की गूंज राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति समेत प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच गयी है। जिस पर मानव संसाधन विकास मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी गयी है।

बताया जा रहा है कि जेएनयू में नए हॉस्टल नियमों के मसले पर छात्र बीते एक महीने से कुलपति प्रोफेसर एम जगदीश कुमार से बात करने का प्रयास कर रहे थे।

बावजूद इसके कुलपति ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। यदि कुलपति ने छात्रों से बात कर असमंजस को दूर कर दिया होता तो शायद ये हालात न बनते। 
छात्रों का यह प्रदर्शन सोशल मीडिया के जरिए देश भर में पहुंच गया है। प्रदर्शन करने वाले आम छात्रों से लेकर दिव्यांग छात्र तक शामिल थे। जिसके चलते आम लोगों की सहानभूति भी छात्रों के साथ जुड़ती जा रही है। 
मानव संसाधन विकास मंत्री निशंक ने छात्र प्रतिनिधियों को जल्द समस्या निस्तारण का आश्वासन भी दिया है।

जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि छात्रों के इस प्रदर्शन के सार्थक परिणाम अगले सप्ताह तक देखने को मिल सकते हैं। 
चर्चा तो यह भी है कि यूजीसी की कमेटी नए हॉस्टल नियमों को लेकर जल्द ही अपनी ड्रॉफ्ट रिपोर्ट तैयार करेगी। 
इतना ही नहीं पूरे प्रकरण में कुलपति की भूमिका की भी जांच हो सकती है क्योंकि सरकार छात्रों को नाराज नहीं करना चाहती है। 
जेएनयू के मामले में वैसे भी देश की सियासत गर्म रहती है। यह मुद्दा उछलने के बाद विपक्षी दलों ने भी सरकार की घेराबंदी की कवायद शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें...जम्मू कश्मीर: गांदरबल में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को किया ढेर, मुठभेड़ जारी

 

 

 

Web Title: JNU ruckus reaches PMO, report summoned ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया