हैदराबाद: मकैनिक से मिला सुराग, फिर ट्रक और सीसीटीवी की मदद से ऐसे सुलझाया केस


NAZO ALI SHEIKH 01/12/2019 16:36:38
16 Views

Hyderabad. एक कहावत आपने सुनी होगी कि अपराधी कितना भी शातिर क्यों न हो अपने पीछे कोई-न-कोई सुराग जरूर छोड़ जाता है। हैदराबाद में 27 वर्षीय डॉक्टर के साथ दुष्कर्म के बाद उसे जिंदा जला देने वाले आरोपियों ने भी ऐसी ही कुछ गलती की जिससे वह पुलिस के गिरफ्त में आ गए। 

01-12-2019164652HyderabadClu1

दरअसल, जब पुलिस ने सुराग तलाशने शुरू किए तो टायर मकैनिक के साथ-साथ फ्यूल स्टेशन समेत अलग-अलग जगहों पर लगे सीसीटीवी में रेकॉर्ड फुटेज और तकनीकी सबूतों ने आरोपी की पहचान करवा दी। यही वजह है कि पुलिस को महज 48 घंटों के अंदर चारों आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हाथ लगी।

यह भी पढ़ें... परंपरा और तकनीक का बेजोड़ उदाहरण है कानपुर: राष्ट्रपति

   ऐसे लगा सुराग

चारों आरोपियों- मोहम्मद आरिफ, शिवा, नवीन और सी चेन्नकेशवुलु ने वारदात को अंजाम देने से पहले टोंडूपल्ली टोल प्लाजा पर शराब पी थी। दिलचस्प बात यह है कि पीड़िता को फंसाने के लिए जो जाल चारों ने बिछाया था, उसी की वजह से उनका पर्दाफाश भी हो गया। साइबरबाद पुलिस ने शादनगर अंडरपास के नीचे पीड़िता का जला हुआ शव मिलने के बाद पुलिस को सबसे पहला सुराग एक टायर मकैनिक से मिला।

01-12-2019164741HyderabadClu2

दरअसल, पीड़िता की बहन ने पुलिस को बताया था कि उनकी गाड़ी खराब हो गई थी और तब मदद करने के लिए कुछ अनजान लोग आए थे। इस पर पुलिस ने आसपास के टायर मकैनिकों को खोजना शुरू किया। मकैनिक ने बताया कि कोई पंक्चर टायर में हवा भरवाने के लिए लाल रंग की बाइक लाया था।

Web Title: Hyderabad: Clues found from the mechanic, then solved such cases with the help of trucks and CCTV ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया