#TrendingToday : बाल अपराध के बढ़ते मामलों पर कानून बेअसर


NP1550 04/12/2019 11:22:37
185 Views

Lucknow. हाल के दिनों में बाल अपराध में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। चाहें बाल यौन शोषण की बढ़ती घटनाएं होंं या चाइल्ड ट्रैफिकिंग के मामले, पिछले कुछ सालों में जिस तरीके की वीभत्स घटनाएं सामने आई हैं, उसने मानव समाज को शर्मसार कर दिया है। सरकार की ओर से लगातार कानून कड़े किए जाने के बावजूद घटनाएं कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। हरेक माह न सिर्फ बाल अपराध, बल्कि अपराधियों की संख्या भी बढ़ती जा रही है।  

04-12-2019113855TrendingNowNC1

►आपराधिक गतिविधियों में बढ़ोतरी

किशोर न्यायालय में दर्ज बाल अपराध के आंकड़े चौंकाने वाले हैं। इसके बाद भी कम उम्र में ही अपराधिक घटनाओं की ओर आकर्षित होने वाले किशोरों को इस ओर जाने से रोकने की दिशा में समुचित प्रयास कहीं भी दिख नहीं रहा है। आकड़ों पर गौर करें तो अकेले वर्ष 2019 में अब तक थानों में दर्ज किए गए संगीन आपराधिक मामलों में कम उम्र के बच्चों की संख्‍या भी काफी अधिक है। इनमें चोरी की वारदातें सबसे ज्यादा है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की 2016 में अपराध पर जारी रिपोर्ट बताती है कि देशभर में बच्चों पर आपराधिक गतिविधियों में बढ़ोतरी हुई है। 

04-12-2019113905TrendingNowNC2

►3 साल में अपराध दर पहुंची 24 फीसदी

2014 में बच्चों के साथ अपराध की 89,423 घटनाएं दर्ज हुईं। इसके बाद 2015 में 94,172 और 2016 में 1,06,958 घटनाएं दर्ज हुईं। इन 3 सालों में बच्चों के साथ अपराध की दर 24 फीसदी तक पहुंच गई। 2014-15 में 5.3 फीसदी की तुलना में 2015-16 में 13.6 फीसदी अपराध हुआ। 2016 में बच्चों के साथ घटी 1,06,958 घटनाओं में 36,022 मामले पॉक्सो एक्ट, 2012 के तहत दर्ज किए गए, जिसमें सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश (4,954) में मामले सामने आए। उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र (4,815) और मध्य प्रदेश (4,717) का नाम आता है। इस तरह से देखा जाए तो बाल यौन शोषण के मामले में 34.4 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई। 

यह भी पढ़ें: #TrendingToday: World's largest cricket stadium to be inaugurated at Ahmedabad in March

Web Title: TrendingToday NCRB issues shocking data on child crimes ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया