पिछले वर्षों की अपेक्षा यूपी में कम हुई आपराधिक घटनाएं


NP863 04/12/2019 18:09:53
36 Views

Lucknow. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सत्ता संभालते हुए उत्तर प्रदेश के अपराध में भारी कमी आई है। 1 जनवरी से 15 दिसंबर 2019 के जारी आंकड़ों में साफतौर पर देखा जा सकता है कि किस तरह पिछले सालों की अपेक्षा इस बार अपराध के आंकड़ों में कमी आई है। 2016 में जनवरी से दिसंबर माह के बीच पूरे साल में 4679 हत्याएं हुईं, जबकि योगी सरकार में यह घटकर 3294 रह गई है। आंकड़ों के मुताबिक साल-दर साल योगी सरकार में अपराध घटे हैं।

04-12-2019182423yogiadityanat2
आंकड़ों पर गौर करें तो योगी सरकार के आने के बाद यूपी में क्राइम लगातार कम हुए हैं। समाजवादी पार्टी की सरकार के वक्त एक साल में (वर्ष 2016) हत्या, डकैती, लूट, बलात्कार और दहेज मृत्यु के 14,980 मामले दर्ज किए गए थे। जबकि योगी सरकार में जनवरी से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 10,064 मामले दर्ज हुए हैं। सपा सरकार की तुलना में भाजपा सरकार में करीब 5000 मामले कम हुए हैं। 

योगी सरकार में ऐसे घटे अपराध
• हत्या : वर्ष 2016 में 4679 हत्याएं हुईं। वर्ष 2017 में 4324 हत्याएं, वर्ष 2018 में 4018 हत्याएं और जनवरी 2019 से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 3294 हत्याएं हुईं।
• डकैती : वर्ष 2016 में 263 डकैती हुई। वर्ष 2017 में 251 डकैती, वर्ष 2018 में 144 डकैती के मामले आए। जबकि जनवरी 2019 से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 91 डकैती के मामले दर्ज किए गए हैं।
• लूट : वर्ष 2016 में 4118 लूट की घटनाएं हुई। वर्ष 2017 में 4131 लूट, वर्ष 2018 में 3218 लूट के मामले हुए। जबकि जनवरी 2019 से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 1982 लूट के मामले दर्ज किए गए हैं।
• बलात्कार : वर्ष 2016 में 3481 मामले दर्ज हुए। वर्ष 2017 में 4272 मामले, वर्ष 2018 में 3946 मामले आए। जबकि जनवरी 2019 से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 2553 मामले दर्ज किए गए हैं।
• दहेज मृत्यु : वर्ष 2016 में 2439 मामले दर्ज हुए। वर्ष 2017 में 2543 मामले, वर्ष 2018 में 2444 मामले आए। जबकि जनवरी 2019 से लेकर 15 नवंबर 2019 तक 2144 मामले दर्ज किए गए हैं।

04-12-2019181839yogiadityanat1

Web Title: yogi adityanath sarkar me khatm hue sangathit apradh ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया