#NewstimesTrending : डोपिंग के कारण रूस पर लगा 4 साल का बैन, इन खिलाड़ियों पर पड़ेगा असर


NP863 10/12/2019 11:48:47
56 Views

Lucknow. विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी ने सर्वसम्मति से रूस को चार सालों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। यह पर यह प्रतिबंध प्रमुख अंतरराष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं(विशेष रूप से ओलंपिक और विश्व कप) में चार साल के लिए लगाया गया है। बता दें कि रूस पर इस बैन का सबसे बड़ा असर यह देखने को मिलेगा कि वह टोक्यो में होने जा रहे आगामी ओलंपिक 2020 और कतर में होने जा रहे फुटबॉल वर्ल्ड कप 2022 से बाहर हो गया है। 

10-12-2019115224newstimestrend1
बता दें कि रूस पर यह बैन डोप टेस्ट में छेड़छाड़ करने के लिए लगाया गया है। आरोप है कि रूस ने डोपिंगरोधी प्रयोगशाला में गलत आंकड़े पेश किये, जिसके बाद उस पर यह प्रतिबंध लगा है। एजेंसी की कार्यकारी समिति ने बताया कि मास्को प्रयोगशाला डेटाबेस के साथ छेड़छाड़ करने के चलते रूस की विश्व चैंपियनशिप की मेजबानी भी छीनी जा रही है। वाडा के फैसले के अनुसार, रूसी एथलीटों को बड़ी घटनाओं में प्रतिस्पर्धा करने की अनुमति तभी दी जाएगी, जब उन्हें सकारात्मक डोपिंग परीक्षणों में नहीं फंसाया गया हो, या उनके डेटा में हेरफेर नहीं किया गया हो। इसी के साथ भले ही रुस पर प्रतिबंध लगा हो लेकिन वह खिलाड़ी जिन्हें डोपिंग में क्लीन चिट मिल जाएगी और वह न्यूट्रल फ्लैग के इन खेलों में हिस्सा ले सकेंगे। बता दें कि वाडा के इस बैन के खिलाफ यदि रूस अगले 21 दिनों के भीतर अपील करता है तो मामला कोर्ट ऑफ आर्बिट्रेशन फॉर स्पोर्ट्स(CAS) को भेज दिया जाएगा। 
यूरो 2020 में खेलेगी टीम 
ज्ञात हो कि रूस पर 2015 से एक राष्ट्र के तौर पर खेलने पर प्रतिबंध लगा हुआ है। इस प्रतिबंध के बावजूद रूस यूरो 2020 में हिस्सा ले सकेगा। यूरोप की फुटबॉल संस्था यूईएफए को खेल के बड़े आयोजकों में नहीं गिना जाता है। 
इन ऐथलीटों पर पड़ेगा असर 


माना जा रहा है कि रूस के एथलीट तटस्थ खिलाड़ियों के तौर पर भाग ले सकते हैं। लेकिन अगर ऐसा नहीं हुआ तो इन 10 बड़े ऐथलीटों पर भी इसका असर पड़ेगा। 
1) मरियन लसिस्टकेन(महिला हाई जंपर) - वर्ल्ड नंबर 1, 2017 और 2019 में वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड विनर। 
2) अंजेलिका सिदोरोवा(महिला पोल वॉल्ट) - दोहा वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 में गोल्ड, यूरोपियन चैंपियनशिप-2019 में गोल्ड। 
3) मिखायल अकिमेंको(पुरुष हाई जंपर) - दोहा वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 में सिल्वर।
4) इल्लिया आईवनयुक(पुरुष हाई जंपर) - दोहा वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 में ब्रॉन्ज।
5) सर्जेई शुबेंकोव(पुरुष हर्डल) - वर्ल्ड चैंपियनशिप-2017 और 2017 के 110 मीटर में सिल्वर।
6) वासिली मिजिनोव(ट्रैक ऐंड फील्ड, ऐथलेटिक्स) - वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 में 20 किमी वॉक के सिल्वर।
7) निकिता नागोर्नी(पुरुष जिम्नैस्ट) - वर्ल्ड चैंपिनशिप-2019 में 3 गोल्ड, ओलिंपिक-2016 में सिल्वर(टीम इंवेंट)।
8) व्लादिमीर मोरोजोव(पुरुष स्विमर) - 100 मीटर इंडिविजुअल मेडले में मौजूदा वर्ल्ड रेकॉर्ड होल्डर।
9) क्लिमेंट कोलेसनिकोव(पुरुष स्विमर) - 2018 समर यूथ ओलिंपिक में 6 गोल्ड। 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप में एक सिल्वर और दो ब्रॉन्ज।
10) एंटोन चुपकोव(पुरुष स्विमर) - 2019 वर्ल्ड चैंपियनशिप के 200 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक इवेंट का गोल्ड।

Web Title: newstimestrending wada banned russia from olympics for four years ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया