विपक्ष के अलावा नागरिकता संशोधन बिल पर बीजेपी सहयोगी पार्टी जदयू में भी फूट


NP97 10/12/2019 17:09:48
47 Views

New Delhi. नागरिकता संशोधन ​बिल पर विपक्ष पहले से ही सरकार पर हमलावर है। वहीं नागरिकता संशोधन बिल पर बीजेपी की सहयोगी पार्टी जेडीयू में आपस में फूट पड़ गई है। सोमवार को लोकसभा में जदयू ने केंद्र सरकार का साथ दिया। इसके बाद जदयू में पार्टी में घमासान हो गया। पार्टी के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के बाद वरिष्ठ नेता पवन वर्मा ने भी पार्टी के रुख पर सवाल उठाए हैं। 

10-12-2019171548Apartfromthe1

पवन वर्मा ने कहा कि नीतीश कुमार इस बिल को समर्थन देने पर दोबारा करें विचार 

जदयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर के बाद वरिष्ठ नेता पवन वर्मा ने सीएम नीतीश कुमार से अपील कि वे इस बिल पर समर्थन देने पर  दोबारा विचार करें। पवन वर्मा ने कहा कि ये बिल असंवैधानिक,भेदभावपूर्ण और देश की एकता व सौहार्द के खिलाफ है। साथ ही जेडीयू के धर्मनिरपेक्ष चरित्र के भी खिलाफ है। आज गांधी जी होते तो इसे पूरी तरह ठुकरा देते। 

10-12-2019171558Apartfromthe2

जदयू के नागरिकता संशोधन विधेयक को समर्थन देने से हुआ निराश

जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने ट्वीट में लिखा कि जदयू के नागरिकता संशोधन विधेयक को समर्थन देने से निराश हुआ। यह विधेयक नागरिकता के अधिकार से धर्म के आधार पर भेदभाव करता है। यह पार्टी के संविधान से मेल नहीं खाता। जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द पहले पन्ने पर तीन बार आता है। पार्टी का नेतृत्व गांधी के सिद्धांतों को मानने वाला है। 

 

 

Web Title: Apart from the opposition, the BJP ally JDU split on the Citizenship Amendment Bill. ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया