पूर्व राष्ट्रपति ने सरकार से की अपील, लोकसभा में 1000 करें सदस्यों की संख्या


NP1509 17/12/2019 10:21 AM
75 Views

New Delhi. पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) ने केंद्र सरकार से लोकसभा (Lok Sabha) और राज्यसभा (Rajya Sabha) में सदस्यों की संख्या बढ़ाने की अपील की है। प्रणब मुखर्जी ने देश की बढ़ती आबादी का हवाला देते हुए कहा कि अब लोकसभा क्षेत्रों की संख्या 543 से बढ़ाकर एक हजार कर देनी चाहिए। साथ ही राज्यसभा की सदस्य संख्या भी बढ़ाई जानी चाहिए। देश की आबादी और बहुलता को देखते हुए यह जरूरी है।

Pranab Mukherjee appealed to the government to increase the number of members in the Lok Sabha

बता दें कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी सोमवार (16 दिसंबर) को इंडिया फाउंडेशन (India Foundation) द्वारा आयोजित दूसरे अटल बिहारी बाजपेयी स्मृति व्याख्यान (Atal Bihari Bajpai Memorial Lecture) कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। इस दौरान उनका यह बयान सामने आया। 

पूर्व राष्ट्रपति ने कहा कि अंतिम बार लोकसभा (Lok Sabha) की सदस्य संख्या 1977 में बदली गई। उस समय तब 1971 की जनगणना के मुताबिक लोकसभा क्षेत्रों का निर्धारण हुआ। तब देश की आबादी 55 करोड़ थी। उन्होंने कहा कि तब से अब तक देश की आबादी दो गुना से ज्यादा बढ़ गई है। इसलिए लोकसभा क्षेत्रों के पुनर्गठन पर लगी रोक खत्म होनी चाहिए।

इस दौरान प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) ने बहुमत के दुरुपयोग (Misuse of majority) को लेकर चेतावनी देते हुए कहा कि लोग सोचते हैं कि अगर सदन में पूर्ण बहुमत मिल जाए तो फिर कुछ भी और कैसा भी कर सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को जनता ने अतीत में अक्सर दंडित किया है।

वहीं, पूर्व राष्ट्रपति ने ‘एक देश, एक चुनाव’ ('one country, one election') के प्रस्ताव से असहमति जताते हुए कहा कि संविधान में संशोधन के जरिए ऐसा किया जा सकता है, लेकिन क्या गारंटी है कि भविष्य में जनप्रतिनिधि सरकार पर अविश्वास नहीं जताएंगे?

यह भी पढ़ें:-...लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे होंगे देश के अगले आर्मी चीफ

Web Title: Pranab Mukherjee appealed to the government to increase the number of members in the Lok Sabha ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया