नागरिकता कानून: यूपी में अब तक 18 लोगों की मौत, इंटरनेट सेवा सोमवार तक बंद


NP1357 22/12/2019 18:42 PM
42 Views

Lucknow. नागरिकता कानून (Citizenship Law) को लेकर उत्‍तर प्रदेश के कई हिस्‍सों में हुए प्रदर्शन (Demonstration) को लेकर हुई हिंसा में अब तक 18 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, घायल पुलिसकर्मियों का आंकड़ा 263 पहुंच चुका है। पुलिस ने बताया कि 5000 प्रदर्शनकारियों को पुलिस (Police) ने हिरासत में लिया गया है। जबकि 879 लोगों को जेल भेज दिया गया है। इसके साथ ही यूपी के 21 जिलों में इंटरनेट सेवा (Internet Service) सोमवार तक बंद रखने का ऐलान किया गया है।

18 people died in UP so far

प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह (DGP O.P. Singh) ने बताया कि नागरिकता कानून (Citizenship Law) के खिलाफ राज्‍य में हो रहे हिंसक प्रदर्शनों (Violent Demonstrations) में अब तक करीब 5000 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया, जबकि 879 लोगों को जेल भेज दिया गया है। प्रदेश के कई जनपदों में शुक्रवार और शनिवार को प्रदर्शन और हिंसा की खबरें सामने आई थीं। कानपुर में यतीमखाना पुलिस चौकी (Yatimkhana Police Chowki) को प्रदर्शनकारियों ने आग के हवाले कर दिया है। इसके साथ ही प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्‍थरबाजी की। इससे पहले शुक्रवार को राजधानी लखनऊ में हिंसक प्रदर्शन हुआ था।

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक सामग्री भेजने वालों पर कार्रवाई

वहीं, सोशल मीडिया (Social Media) पर भी आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर भी पुलिस सक्रिय बनी हुई है। आईजी ने बताया कि सोशल मीडिया (Social Media)  के 14,101 आपत्तिजनक पोस्टों से संबंधित लोगों पर कार्रवाई की गई है। इनमें टि्वटर की 5965, फेसबुक की 7995 और यूट्यूब की 142 आपत्तिजनक पोस्टों पर कार्रवाई की गई है। उन्होंने बताया कि इस मामले में 63 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई हैं।

यह भी पढ़ें- 

नागरिकता बिल: भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर सहित 15 लोग गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में नगर निकाय चुनाव के लिए मतदान जारी,सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम

CAA Protest : सोनिया पर निर्मला सीतारमण का पलटवार, कहा- लोगों को भ्रमित कर रही हैं कांग्रेस अध्यक्ष

 

Web Title: 18 people died in UP so far ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया