लगातार हो रहे विरोध प्रदर्शन पर बोले सेना प्रमुख, नेता वे नहीं जो गलत दिशा में...


NP863 26/12/2019 15:32:58
81 Views

Lucknow. भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत(Indian Army Chief General Bipin Rawat) ने नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship (Amendment) Act, 2019) को लेकर देशभर में हो रहे प्रदर्शन को लेकर बयान दिया है। उनका यह बयान विश्विद्यालय(University) और कॉलेजों(College) के प्रदर्शनकारी छात्रों को लेकर दिया गया है। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत(Indian Army Chief General Bipin Rawat) ने एक इवेंट के दौरान कहा है कि, "नेता वह नहीं है जो गलत दिशा में लोगों का नेतृत्व करते हैं। जैसा कि हम लोग गवाह रहें कि बड़ी संख्या में विश्विद्यालयों और कॉलेजों में छात्रों ने शहरों और कस्बों में आगजनी और हिंसा करने के लिए जन और भीड़ का नेतृत्व कर रहे हैं। यह नेतृत्व नहीं है।"

26-12-2019153723armychiefgen1
सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत(Indian Army Chief General Bipin Rawat) ने एक इवेंट के दौरान यह भी कहा है कि जब हम दिल्ली की सर्दी में खुद को बचाने के लिए पोशाक पहने खड़े हैं तो मैं अपने उन जवानों को भी सम्मान देना चाहता हूं जो सियाचीन में साल्तोरो ब्रिज पर मुस्तैद हैं। इसी के साथ मैं उन्हें भी सम्मान देना चाहता हूं जो ऊंचाईयों पर मौजूद उन पोजीशन पर पहरा दे रहे हैं, जहां तापमान -10 से -45 डिग्री रहता है। 

यह भी पढ़ें... लोकभवन में PM नरेंद्र मोदी ने अटल बिहारी की मूर्ति का किया अनावरण
गौरतलब है कि लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल 9 दिसंबर 2019 को पास होने के बाद इसे 11 दिसंबर 2019 को राज्यसभा में गृहमंत्री अमित शाह द्वारा पेश किया गया था। लंबी बहस के बाद यह बिल राज्यसभा में भी पास हुआ था। बिल के कानून का रूप लेने के बाद से ही देश के कई हिस्सों में लगातार विरोध प्रदर्शन देखा जा रहा है। जिसके बाद सेना प्रमुख का यह बयान सामने आया है। 

 

 

Web Title: army chief gen bipin rawat leaders are not those who lead ppl in inappropriate direction ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया