राज्यपाल से मिले कांग्रेस के नेता, मुलाक़ात के बाद प्रियंका ने दिया बड़ा बयान


NP1509 30/12/2019 15:28:30
235 Views

Lucknow. नागरिकता संशोधन कानून को लेकर विरोध के दौरान यूपी में बीते हफ़्ते हुई हिंसा के बाद लगातार राजनीति गरमाई हुई हैकांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने सोमवार को प्रेस कांफ्रेंस कर योगी सरकार पर जमकर हमला बोला। नागरिकता कानून के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद सरकार की कार्रवाई को प्रियंका ने गलत ठहराया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और राज्य पुलिस ने कई कदम उठाए हैं, जो कानूनी नहीं हैं और जिसके कारण अराजकता पैदा हुई है।

30-12-2019153833PriyankaGandh1

लखनऊ में कांग्रेस मुख्यालय पर मीडिया से बातचीत में प्रियंका गांधी ने बताया कि उन्होंने राज्यपाल को एक चिट्ठी सौंपी है, जिसमें उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने पुलिस की तरफ से अराजकता फ़ैलाने का काम किया है। 

सीएम योगी के बयान पर प्रियंका का हमला

प्रियंका गांधी ने कहा कि उनकी सुरक्षा का सवाल कोई बड़ा सवाल नहीं है। इसकी चर्चा करने की कोई जरूरत नहीं है। आज हम राज्य के लोगों की सुरक्षा का मुद्दा उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएम योगी कहते हैं कि वो जनता से बदला लेंगे। पहली बार किसी सीएम ने ऐसा बयान दिया। 

उन्होंने कहा कि बिजनौर में दूध लेने जा रहे लड़के की हत्या हुई। पुलिस की ओर से दबाव डालकर घर के पास दफनाने से रोक दिया। जिसके बाद मोहल्ले से 20 किलोमीटर दूर उसके शव को दफनाया गया। उन्होंने कहा कि 21 साल का सुलेमान यूपीएससी की तैयारी कर रहा था। कुछ दिनों के लिए घर आया था और मस्ज़िद के पास खड़ा था, तभी पुलिस उसे उठाकर ले गई। उसको गोली मारी गई थी। पुलिस ने दबाव डालकर मामला दर्ज नहीं करने दिया। 

प्रियंका ने कहा कि लखनऊ में दारापुरी जी को उनके घर से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने नागरिकता कानून के ख़िलाफ़ फेसबुक पोस्ट लिखा था। उन्हें पुलिस घर से उठाकर ले गई और उनकी पत्नी बिस्तर पर बीमार पड़ी हैं। दारापुरी जी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ ज़फ़र को 48 लोगों की लिस्ट में डाला गया। 

Web Title: Priyanka Gandhi's press conference ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया