योगी सरकार ने गृह मंत्रालय से PFI को बैन करने की सिफारिश की


NP1509 01/01/2020 17:14 PM
40 Views

Lucknow. यूपी (Uttar Pradesh) में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) पर बैन लगाने को लेकर योगी सरकार (UP Government) ने केंद्रीय गृह मंत्रालय (Union Ministry of Home Affairs) से सिफारिश की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यूपी सरकार की ओर से मिली सिफारिश को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एनआईए (NIA) और इंटेलिजेंस एजेंसियों से पीएफआई को लेकर डिटेल रिपोर्ट तलब करने की तैयारी में है। कहा यह भी जा रहा है कि गृह मंत्रालय पिछले कुछ महीनों में पीएफआई से जुड़ी गतिविधियों की समीक्षा करेगा।

Yogi government recommends Home Ministry to ban PFI

दरअसल, यूपी के गृह विभाग ने पीएफआई (PFI) को बैन करने का प्रस्ताव केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा था। PFI पर नागरिकता कानून (Citizenship Law) के विरोध प्रदर्शन के दौरान यूपी में हिंसा (Riots) भड़काने का शक है।

प्रदेश में विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा की जांच कर रही पुलिस (Police) के मुताबिक, PFI के लोगों ने सोशल मीडिया (social media) के जरिये लोगों को उकसाने और भड़काने का काम किया है। यूपी में गिरफ्तार किये गये लोग इस संगठन से जुड़े हैं। 

क्या है पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया? 

PFI यानि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular front of india) एक उग्र इस्लामी कट्टरपंथी संगठन है। दक्षिण भारत (South India) के प्रदेशों में यह संगठन काफी सक्रिय रहा है। साथ ही चुनाव भी लड़ता रहा है। पिछले 6 महीनों में यह संगठन यूपी में काफी सक्रिय हुआ है।

लोगों के सामाजिक हितों के लिए लड़ने का दावा करने वाले संगठन PFI पर गैरकानूनी कामों के आरोप लगते रहे हैं। वहीं, इसकी संदिग्ध गतिविधियों (Suspicious Activities) के चलते झारखंड की सरकार (Government of Jharkhand) ने इस पर बैन लगा रखा है।

यह भी पढ़ें:-...यूपी में PFI को बैन करने की तैयारी, हिंसा भड़काने में आया नाम

Web Title: Yogi government recommends Home Ministry to ban PFI ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया