डिप्टी सीएम सचिन पायलट अपनी ही सरकार पर भड़के, जानें वजह


NP1357 04/01/2020 17:46 PM
208 Views

New Delhi. राजस्‍थान (Rajasthan) के कोटा के जेके लोन अस्‍पताल (JK Lone Hospital) में एक महीने में 100 से अधिक बच्‍चों की मौत हो गई है। इसके लेकर गहलोत सरकार (Gehlot Government) सवालों के घेरे में है। विपक्षी दलों ने गहलोत सरकार (Gehlot Government)  पर करारा निशाना साधा। वहीं, अब डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट (Deputy CM Sachin Pilot) ने अपनी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है। 

 Deputy CM Sachin Pilot rages on his own government

राजस्‍थान के डिप्‍टी सीएम सचिन पायलट (Deputy CM Sachin Pilot) ने कोटा में बच्‍चों की हुई मौतों को स्‍वीकार किया। उन्‍होंने कहा के कोई खामी रही होगी, जिस वजह से इतने बच्‍चों (Child) की जान चली गई। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए जिम्‍मेदारी भी तय होनी चाहिए। सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने कहा कि हमें आंकड़ों के फेर में नहीं फंसना हैं, लेकिन अपनी सरकार के रिस्‍पॉन्‍स से संतोषजनक नहीं हैं। उन्‍होंने कहा कि हम आंकड़े पर चर्चा करें तो जिन लोगों ने अपने बच्‍चे खोए उनका स्‍वीकार्य नहीं है। 

डिप्टी सीएम बोले, जिम्मेदारी तय होनी चाहिए 

उन्‍होंने कहा कि जिस मां ने अपने बच्‍चे (Child) को में पाला है और उसके बच्‍चे की मौत हो जाए तो उसके दर्द को वही जानती है। सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने कहा कि हमें लोगों को विश्‍वास दिलाना होगा कि हम ऐसी घटनाओं को कतई स्‍वीकार नहीं करेंगे। उन्‍होंने कहा कि बच्‍चों की मौत को लेकर जिम्‍मेदारी तय होनी चाहिए।

सीएम ने बच्चों की मौत का दोष पूर्ववर्ती सरकार पर मढ़ा

बता दें कि राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (Chief Minister Ashok Gehlot) ने बच्‍चों की मौतों को लेकर कहा था कि पिछली सरकारों की अपेक्षा इस साल बहुत कम बच्‍चों की मौत हुई है। पूरे देश में हर रोज दो-चार बच्‍चों की मौतें होती रहती हैं, इसमें कोई नई बात नहीं है। उन्‍होंने बच्‍चों की मौत का दोष पूर्व की सरकारों पर मढ़ दिया है।

यह भी पढ़ें- 

दीवार गिरने से पांच मजदूरों की मौत, 15 मलबे में दबे

दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष को टिकट दिलाने के बदले मांगे ढाई करोड़, पुलिस ने किया गिरफ्तार

इराक पर अमेरिका ने फिर की एयर स्ट्राइक, 6 लोगों की मौत

 

Web Title: Deputy CM Sachin Pilot rages on his own government ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया