जेएनयू में हुई हिंसा पर हमलावर हुए अखिलेश, कहा- हम डरते हैं सरकार से, न जाने कब पुलिस...


NP863 06/01/2020 15:02:31
235 Views

LUCKNOW. जेएनयू(JNU) में हुई हिंसा की वारदात को लेकर यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री औऱ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव(Akhilesh Yadav) ने सोमवार को मौजूदा सरकार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने पुराना वीडियो दिखाते हुए बनारस(Varanasi) में हुई हिंसा को लेकर भी मौजूदा योगी सरकार(Yogi Sarkar) को आड़े हाथों लिया। अखिलेश ने कहा कि पुलिस बवाल और हिंसा करने वालों को शह दे रही है। जेएनयू में एक विचारधार के लोग उसे अपनी विचारधारा में ढाल लेना चाहते हैं। 

06-01-2020150748akhileshyadav1
अखिलेश(Akhilesh) ने कहा कि जेएनयू में जो हुआ उसे दुनिया ने देखा। किस तरह लोग मुंह ढककर आए और उन्होंने अंदर तोड़फोड़ की। इस दौरान छात्रसंघ की अध्यक्ष औऱ कोई प्रोफेसर को भी गंभीर चोटें आईँ। इस दौरान पुलिस गेट के बाहर सूचना का इंतजार करती रही। क्या पुलिस इसी तरह काम करती थी? यह वेल प्लांड अटैक था। जेएनयू ही नहीं यूपी में भी हमने यह करीब से देखा। छात्रसंघ के दौरान बनारस में दो कॉलेजों में चुनाव के समय उसी विचारधारा के लोगों ने नंगा नाच किया। वीडियो में देख आप कपड़ों से अंदाजा लगा सकते हैं वह कौन है और पुलिस भी उनके साथ खड़ी है।
भाजपा पर हमलावर होते हुए उन्होंने कहा भाजपा को पता है उन्हें पॉलिटिकल फायदा कहां से होगा। वह अपने लोगों को वहीं बैठाना चाहते हैं। दुनिया में जिस यूनिवर्सिटी का नाम जाना जाता है उसे बर्बाद करने की साजिश रची जा रही है। उन्हें शिक्षा से कोई मतलब नही है। उस यूनिवर्सिटी के वीसी इतने ताकतवर है कि उनके सामने सचिव क्या हैं। महीने भर में न जाने कितने सचिव को निकाल दिया गया। भाजपा के लोग लोकतंत्र और संस्थाओं को बर्बाद करना चाहते हैं। 
भाजपा जनता को भटकाना चाहती है। यह झूठी पार्टी है। दंगे से किसको लाभ होता है यह सभी जानते हैं। अगर दंगों के लिए कोई भी जिम्मेदार है तो सिर्फ भाजपा की सरकार है, हम पहले भी यह कह चुके हैं कि जितने लोगों की जान गयी है वह पुलिस की गोली से गई है।
गोरखपुर में हुई बच्चों की मौत का काला सच रखा सामने 
अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार के लोग कोटा में हुई मौतों लेकर चिंतित हैं लेकिन हम गोरखपुर में जनवरी से अक्टूबर 2019 के बीच हुई मौतों का काला सच आपके सामने रखना चाहते हैं। इस दौरान मेडिकल कॉलेज में दिमागी बुखार से पीड़ित बच्चों की वास्तविक संख्या 1500 से अधिक थी। लेकिन सरकार ने पीड़ित बच्चों की संख्या 500 से भी कम दिखाई। अक्टूबर 2017 में बाबा राघवदास मेडिकल कालेज गोरखपुर में प्रशासन की लापरवाही से 100 से अधिक बच्चों की मौत हुई थी। हम कई परिवारों से मिले और मांग की कि इन परिवारों की मदद की जाए, लेकिन सरकार ने न परिवार की मदद की न अपनी गलती मानी। सरकार ने बच्चों की मौत की जिम्मेदारी लेने के बजाए मारे गये बच्चों की संख्या भी कम दिखाई। भाजपा सरकार ने मरने वाले बच्चों की संख्या कम बताते हुए। 

06-01-2020150803akhileshyadav2
हम डरते हैं सरकार से 
अखिलेश यादव ने कहा कि हम सरकार से बहुत डरते हैं। अगर पुलिस घर में कपड़ा बदल कर आ जाए तो हम क्या करेंगे। कुछ दिन पहले वैसे भी हम और नेताजी दोनों लोग घर से बाहर निकाल दिेये गये। सिक्योरिटी भी घट गयी। गाड़ी भी अंबेस्डर दे दी गयी। खाना बनाने वाले भी हटा दिये। सरकार का दिल इतना छोटा है हमें नहीं पता था। 
फिलहाल दिल्ली चुनाव लड़ने की विचार नहीं 
दिल्ली के आगामी चुनाव को लेकर अखिलेश यादव ने कहा कि हम फिलहाल दिल्ली का चुनाव लड़ने की मूड में नहीं हैं। लेकिन फिर भी एक बार हम अपने नेताओं से बात करेंगे। 

Web Title: akhilesh yadav ne bjp sarkar par bola hamla ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया