माघ मेला-2020 का आगाज: पौष पूर्णिमा पर संगम में 23 लाख श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी 


NP1357 10/01/2020 23:20:49
88 Views

Lucknow. माघ मेला-2020 (Magh Mela 2020) का आगाज पौष पूर्णिमा स्नान (Purnima Snan) के साथ शुक्रवार से हो गया। पौष पूर्णिमा स्नान पर्व के साथ एक माह तक चलने वाला जप, तप, ध्यान, मग्न, स्नान-दान और व्रत का महापर्व कल्पवास का भी शुभारंभ हो गया। शीतलहर के बावजूद स्नानार्थियों व श्रद्वालुओं का जत्था रात से ही संगम के स्नान घाटों पर पहुंचने लगा था और भोर होते हुये स्नान घाट हर-हर गंगे के उदघोष से गूंज उठा। दिन भर कड़ाके की सर्दी के बावजूद श्रद्धालुओं का जमावड़ा संगम तट पर दिखाई दिया। देर शाम तक स्नान चलता रहा। 

10-01-2020232312Inaugurationo1

माघ महीने में सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने के साथ ही तीर्थराज प्रयागराज में एक माह के कल्पवास से एक कल्प (ब्रह्मा का एक दिन) का पुण्य मिलता है। वहीं संगम में स्नान का विशेष महत्व है। भोर से ही श्रद्धालुओं ने यहां आस्था की डुबकी लगाना शुरू कर दिया। मेला प्रशासन का दावा है कि सुबह 10 बजे तक लगभग 15.50 लाख श्रद्धालुओं ने पवित्र त्रिवेणी में पुण्य की डुबकी लगाई। शाम तक 30 लाख से अधिक स्नानार्थियों ने मेला क्षेत्र में बने स्नान घाटों पर पावन डुबकी लगाई। मेला क्षेत्र में सुरक्षा की दृष्टि से भारी संख्या में पुलिस और पीएसी के साथ अर्द्धसैनिक बल तैनात हैं। 

10-01-2020232317Inaugurationo2

बैरिकेडिंग की वजह से परेशान हुए लोग

मेला प्रशासन भीड़ के मद्देनजर पहले से ही मुस्तैद दिखाई दिया। हालांकि इस वजह से रास्ता बन्द करने के कारण दिन भर शहरवासी परेशान भी रहे। इलाहाबाद जंक्शन के सिविल लाइंस साइड का रास्ता रेलवे ने गुरुवार की शाम को ही बंद कर दिया, जिससे यात्रियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ा। रास्ता बंद होने से जिन स्थानीय निवासियों को नगर निगम या बीएसएनएल जाना है, वह रास्ता बन्द होने के कारण नहीं जा सके। इसी प्रकार सिविल लाइंस का मुख्य स्थल सुभाष चैराहा बंद कर वन वे कर दिया गया। जबकि श्रद्धालुओं की भीड़ न के बराबर रही, लेकिन इसका खामियाजा शहरवासियों को भुगतना पड़ा। 

10-01-2020232321Inaugurationo3

नागरिकों में दिखा आक्रोश

नागरिकों का कहना है कि प्रशासन के इसी रवैये से श्रद्धालु आने से कतराते हैं। बहुत ज्यादा भीड़ न होने पर भी लम्बा चक्कर लगवाया गया जिससे लोगों में काफी आक्रोश दिखायी दिया।  बसों को शहर में प्रवेश न करने देने से श्रद्धालुओं के साथ-साथ स्थानीय निवासियों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सिविल लाइंस बस स्टैण्ड के पास हिन्दू महिला इंटर कॉलेज के सामने भी इसी प्रकार बैरिकेडिंग कर लोगों को परेशान किया जा रहा है। सिविल लाइंस के नवाब यूसुफ रोड पर भी स्टेशन की ओर जाने वाले सभी मार्गां को बंद कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें...

जेएनयू हिंसा: दिल्ली पुलिस ने किया बड़ा खुलासा, आईशी घोष सहित 10 छात्रों की पहचान

जम्मू-कश्मीर में केंद्र की पाबंदियों पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

 

 

Web Title: Inauguration of Magh Mela 2020 23 lakh devotees took a dip of faith in Sangam on Paush Purnima ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया