सीएम योगी का बड़ा फैसला, लखनऊ और नाेएडा में पुलिस कमिश्‍नर सिस्‍टम लागू


NP1357 13/01/2020 10:40 AM
151 Views

Lucknow. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। लोक भवन (Lok Bhawan) में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में आयोजित हुई कैबिनेट बैठक में लखनऊ (Lucknow) व गौतमबुद्धनगर (Gautam Buddha Nagar) में पुलिस कमिश्नर प्रणाली (Police Commissioner System ) पर मुहर लग लगा दी है।

Police commissioner system sealed in cabinet meeting today!

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में सोमवार प्रदेश कैबिनेट (Cabinet) की अहम बैठक हुई। इसमें लखनऊ और गौतमबुद्धनगर (नोएडा) में पुलिस आयुक्त प्रणाली (Police Commissioner System) को लागू करने को मंजूरी दी  गई। 

अब पुलिस के पास भी होंगे अधिकार

आइपीएस संवर्ग (IPS Cadre) के अधिकारी चालीस से अधिक वर्ष से प्रदेश में पुलिस कमिश्नर प्रणाली (Police Commissioner System) लागू कराने की जो जंग लड़ रहे थे, वह आखिरकार निर्णायक मोड़ पर पहुंच गई है। कानून-व्यवस्था (Law Order) के मोर्च पर अब पुलिस के पास भी प्रशासनिक अधिकारियों की तरह बड़े अधिकार होंगे। लखनऊ व गौतमबुद्धनगर में पुलिस कमिश्नर प्रणाली (Police Commissioner System) लागू किए जाने का प्रस्ताव तैयार कर शासन को सौंप दिया गया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने शनिवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ खास बैठक कर इसे लागू करने को लेकर लेकर गहन विचार विमर्श भी किया था। पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) को दिए जाने वाले अधिकारों को लेकर गहन मंथन चला। इस कसरत के चलते ही लखनऊ (Lucknow) व गौतमबुद्धनगर (Gautam Buddha Nagar) में अब तक एसएसपी (SSP) की तैनाती नहीं की गई है।

एडीजी स्तर के अधिकारी को बनाया जाएगा कमिश्नर

डीजीपी मुख्यालय (DGP Headquarters) ने पुलिस कमिश्नर प्रणाली (Police Commissioner System) लागू करने को लेकर जो प्रस्ताव तैयार (Proposal Prepared ) किया है, उसमें लखनऊ में एडीजी स्तर के अधिकारी (ADG level officer ) को पुलिस आयुक्त (Police Commissioner) बनाने की सिफारिश की गई है। पुलिस आयुक्त के नीचे आइजी स्तर के दो अधिकारियों (IG level officers) को संयुक्त पुलिस आयुक्त (Joint Police Commissioner), एसपी (SP) स्तर के नौ अधिकारियों को पुलिस उपायुक्त (Deputy Commissioner of Police), एएसपी (ASP) स्तर के नौ अधिकारियों को अपर पुलिस उपायुक्त व सीओ स्तर के 26 अधिकारियों को सहायक पुलिस आयुक्त ( Assistant Commissioner of Police) के पदों पर तैनाती देने का प्रस्ताव है।

इसी तरह से ही गौतमबुद्धनगर में आइजी (IG) अथवा उससे वरिष्ठ अधिकारी को पुलिस आयुक्त (Police Commissioner) , उनके अधीन डीआइजी (DIG) स्तर के दो अधिकारियों को अपर पुलिस आयुक्त, एसपी (SP) स्तर के छह अधिकारियों को पुलिस उपायुक्त, एएसपी (ASP) स्तर के नौ अधिकारियों को अपर पुलिस उपायुक्त व सीओ स्तर के 15 अधिकारियों को सहायक पुलिस आयुक्त ( Assistant Commissioner of Police) बनाए जाने का प्रस्ताव है।

हर सर्किल में दो अथवा तीन थानों को ही रखा जाएगा। दोनों ही जिलों में पुलिस आयुक्त (Police Commissioner) व संयुक्त पुलिस आयुक्त (Joint Police Commissioner) के नामों को लेकर भी चर्चा की जा रही है। इनमें बीते दिनों पदोन्नति पाकर एडीजी (ADG) बने जयनारायण सिंह (Jay Narayan Singh) व एडीजी (ADG) बने आलोक सिंह (Alok Singh), आइजी कानून-व्यवस्था प्रवीण कुमार त्रिपाठी (Pravin Kumar Tripathi) समेत कई अन्य अधिकारियों के नाम रेस में हैं। डीजीपी ओपी सिंह (DGP OP Singh) ने संभावित नामों की एक सूची भी शासन को सौंपी है।

ये अधिकार बढ़ जाएंगे

कमिश्नर प्रणाली (Police Commissioner System) के तहत पुलिस को धारा 144 लागू करने, लोगों को पाबंद करने, शांतिभंग के तहत चालान में आरोपित को थाने से जमानत पर रिहा करने के अधिकार देने पर सहमति बनी है। पुलिस को एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून), गुंडा एक्ट व गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई का अधिकार भी मिलेगा। पुलिस कमिश्नर शस्त्र लाइसेंस जारी करने के अधिकारी भी होंगे।

यह भी पढ़ें- 

बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष के विवादित बोल, कहा- संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों को ...

भारतीय सेना को बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया

Web Title: Police commissioner system sealed in cabinet meeting today! ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया