मायावती ने जन्मदिन से पहले भाजपा के खिलाफ खेला ये तुरुप का इक्का, इस ब्राह्मण को बनाया...


NAZO ALI SHEIKH 14/01/2020 15:01:17
1299 Views

Lucknow. बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) की मुखिया मायावती (Mayawati) का 15 जनवरी को जन्मदिन मनाया जाने वाला है। उससे पहले बसपा सुप्रीमो ने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) को ध्यान में रखते हुए बसपा पार्टी में बड़ा उलट फेर किया है। उन्होंने भाजपा के खिलाफ ऐसा ब्राह्मण कार्ड खेला है जिससे बीजेपी में हचलच मच गई है। 

14-01-2020150615Mayawatiplaye1

दरअसल, बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपनी पार्टी को लोकसभा में जीत हासिल कराने के लिए लोकसभा के दलनेता दानिश अली (Danish Ali) को हटा कर सांसद रितेश पांडेय (MP Ritesh Pandey) को जिम्मेदारी सौंपी है, वहीं मालूक नागर (Malook Nagar) को उपनेता चुना है। इस उलटफेर में प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली (State President Munkad Ali) की कुर्सी बची हुई है। अब यह देखना दिलचस्प होगा कि बसपा सुप्रीमो के इस ब्राह्मण कार्ड से बीजेपी (BJP) पर क्या असर पड़ता है, क्या बसपा सुप्रीमो अपने इस कार्ड को लोकसभा चुनाव में भुना पाएंगी। 

मायावती ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्होंंने लिखा, बसपा (BSP) में सामाजिक सामंजस्य बनाने को मद्देनजर रखते हुए लोकसभा में पार्टी के दलनेता व उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष एक ही समुदाय के होने के नाते इसमें थोड़ा परिवर्तन किया गया है। 

अर्थात अब लोकसभा में बीएसपी के नेता रितेश पांडेय को व उपनेता मलूक नागर को बना दिया गया है, लेकिन उत्तर प्रदेश के प्रदेशाध्यक्ष मुनकाद अपने इसी पद पर बने रहेंगे। साथ ही उत्तर प्रदेश विधानसभा में बीएसपी के नेता लालजी वर्मा (Lalji Verma)पिछड़े वर्ग से व विधान परिषद में बीएसपी के दलनेता दिनेश चंद्रा दलित वर्ग बने रहेंगे अर्थात यहां कुछ भी परिवर्तन नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें... लोकभवन में अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा बनी सेल्फी पॉइंट, प्रवेश निशुल्क

  दलित ब्राह्मण समीकरण

बसपा सुप्रीमो दलित ब्राह्मण समीकरण को आजमाना चाहती हैं, रामवीर उपाध्याय के बगावती तेवरों के बाद से प्रदेश में ब्राह्मण चेहरे के तौर पर युवा सांसद रितेश पांडेय को आगे लाना नया प्रयोग माना जा रहा है। ऐसे में बसपा की नजर ब्राह्मण समाज में भाजपा के प्रति मोह कम होने पर है। कांग्रेस (Congress) की तरफ ब्राह्मणों का झुकाव न बढ़े इसलिए बसपा सुप्रीमो ने यह बड़ा उलटफेर किया है। बता दें कि दानिश अली को करीब दो महीने पहले ही दल नेता की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। 

14-01-2020150707Mayawatiplaye2

  बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन

बता दें कि 15 जनवरी को बसपा सुप्रीमो मायावती का जन्मदिन (Mayawati's Birthday) है, हर साल की तरह इस साल भी जिला केंद्रों पर जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया जाएगा। जिसमें गरीबों के लिए उपहार बांटे जाएंगे और केट काटा जाएगा। मायावती दिल्ली कार्यालय में जन्मदिन मनाएंगी।

विधानसभा क्षेत्रवार कोटा तय किया गया है। सूत्रों के अनुसार प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से न्यूनतम पांच लाख रुपये पार्टी फंड में जमा कराने को कहा गया है। विधानसभा क्षेत्र प्रभारी को भी फंड जमा कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

Web Title: Mayawati played this trump card against the BJP before her birthday, made this Brahmin ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया