राष्ट्रपति के पास पहुंची दया याचिका, निर्भया के माता-पिता ने केजरीवाल सरकार को ठहराया जिम्मेदार


NP1357 17/01/2020 11:43 AM
163 Views

New Delhi. निर्भया (Nirbhaya) से गैंगरेप और हत्‍या के दोषियों की क्‍यूरेटिव पिटीशन (Curative Petition) खारिज हो गई थी। इसके बाद दोषी मुकेश ने दया याचिका (Mercy petition) का सहारा लिया है। मुकेश की दया याचिका गृहमंत्रालय ने राष्‍ट्रपति के पास भेज दिया है। बता दें कि दोषी विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने भी माफी याचिका राष्‍ट्रपति के पास भेजी थी, उसने बाद में अर्जी को वापस ले लिया था। 

Mercy petition reached to President

निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Gangrape Case) में दिल्‍ली की एक अदालत (Court) ने निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी को होने वाली फांसी पर रोक लगा दी है। कोर्ट ने यह आदेश दोषी मुकेश (Mukesh) की दया याचिका (Mercy petition) पर फैसला न होने के चलते दिया है। कोर्ट के फैसले के बाद निर्भया के माता-पिता ने दोषियों की फांसी में देरी के लिए दिल्‍ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) को जिम्‍मेदार ठहराया है।

फांसी में देरी के लिए दिल्ली सरकार जिम्मेदार

निर्भया (Nirbhaya) के पिता ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) तब तक सोती रही, जब वह लोग आगे नहीं बढ़ें। उन्‍होंने कहा कि जेल अथॉरिटी से दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) ने पहले क्‍यों नहीं कहा था कि आज फांसी के लिए नोटिस जारी करो। उन्‍होंने कहा कि चुनाव से पहले दोषियों को फांसी नहीं होती है तो इसके लिए मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejariwal) जिम्‍मेदार होंगे। 

बच्ची की मौत से कर रहे खिलवाड़

वहीं, निर्भया (Nirbhaya) की मां ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने 2017 में फैसला सुना दिया था, उस समय भी मैं दिल्‍ली और केंद्र सरकार  (Central Government) के पास गईं थीं, लेकिन सरकार चुप है, कोर्ट चुप है। उन्‍होंने दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) पर करारा हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि जब 2012 में घटना हुई थी तब यही लोग तिरंगा लेकर, काली पट्टी बांधकर खूब नारे लगाए थे, लेकिन आज यही लोग बच्‍ची की मौत से खिलवाड़ कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें- 

ISRO ने लॉन्च किया सबसे ताकतवर सैटेलाइट, 5जी इंटरनेट की तैयारी

राज्यपाल ने किया राष्ट्रीय युवा उत्सव 2020 का समापन, कहा - युवा देश की महान विरासत को आगे ले जायें

Web Title: Mercy petition reached to President ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया