दबंगों के खिलाफ बहादुरी दिखाने वाली बेटी हार गयी ज़िंदगी की जंग


NP1509 18/01/2020 17:06:12
33 Views

Kanpur. कानपुर एक बार फिर शर्मशार हो गया। बेटी को न्याय दिलाने के लिए बहादुरी दिखाने वाली रुखसाना आखिर नौ दिन बाद मौत से जंग हार गई। रेप के प्रयास के मामले में गवाही देने पर दबंगों ने उसके घर पर धावा बोल चापड़ से हमला किया था। हमले में रुखसाना की बहन भी घायल हुई थी। उसकी भी हालत नाजुक बनी हुई है। रुखसाना की मौत के बाद क्षेत्र में भारी तनाव है। देर रात्रि एसएसपी अनंत देव तिवारी पीड़िता के घर पर पहुंचे। मौका-ए-वारदात पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई है। शनिवार सुबह पुलिस ने मुठभेड़ के बाद दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। मुख्य आरोपी को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

18-01-2020172625Rukhsanadied1

चकेरी के जाजमऊ की रहने वाली रुखसाना बीजेपी की वर्कर थी। रुखसाना का पति साइकिल की दुकान किए है। करीब सवा साल पहले रुखसाना की नाबालिग बेटी के साथ क्षेत्र के दबंग महफूज, आबिद, जावेद, परवेज उफ मिंटू और महबूब ने छेड़छाड़ कर रेप की कोशिश की थी। रुखसाना की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर सभी को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। जमानत पर रिहा होने के बाद दबंग आरोपी रुखसाना पर गवाही न देने और मुकदमा वापस लेने के लिए दबाव बना रहे थे। रुखसाना गवाही देने पर अड़ी थी। इस पर दबंगों ने उसे कई बार धमकियां भी दीं।

9 जनवरी 2020 को दबंग आरोपी हमलावर रुखसाना के घर में घुस गए। हमलावरों ने चापड़ से रुखसाना और उसकी बहन पर जानलेवा हमला कर लहूलुहान कर दिया। मोहल्ले के लोग दौड़े तो हमलावर भाग निकले। दोनों बहनों को पहले पास के अस्पताल ले जाया गया लेकिन हालत नाजुक देख चिकित्सकों ने दोनों को हैलट अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। शुक्रवार को रुखसाना की मौत हो गई। जबकि उसके बहन की हालत अभी भी नाजुक बनी है।

इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी महबूब को चार दिन पहले मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था। महबूब के पैर में पुलिस की गोली लगी थी। उधऱ, रुखसाना के मौत की खबर मोहल्ले में पहुंची तो क्षेत्र में तनाव बढ़ गया। क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि पुलिस दबाव में अन्य आरोपियों को गिरफ्तार नहीं कर रही है। बवाल की आशंका के मद्देनजर अफसरों ने तत्काल मौके पर फोर्स की तैनाती की। देर रात पीड़िता के घर एसएसपी अनंत देव तिवारी, एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल पहुंचे। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में परिजनों ने रुखसाना के शव सुपुर्द-ए-खाक किया। एसएसपी ने चकेरी इंस्पेक्टर को तत्काल अन्य आरोपितों को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया।

सुबह मुठभेड़ के बाद दो आरोपी गिरफ्तार

दूसरी तरफ शनिवार सुबह चकेरी के जाजमऊ एरिया में दबिश के दौरान दो अन्य आरोपितों परवेज और मोहम्मद आबिद की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। पुलिस टीम को देख दोनों ने पुलिस पर फायर कर दिया। जवाब में पुलिस ने दोनों पर क्रॉस फायरिंग की। पुलिस की गोली दोनों आरोपितों के पैर में लगीं और वह गिर गए। दोनों को पुलिस ने इलाज के लिए कांशीराम अस्पताल में भर्ती कराया है। पुलिस ने दोनों के पास से दो तमंचे, कारतूस और खोखा बरामद किया है।

 

18-01-2020172722Rukhsanadied2

यह भी पढ़ें:-... इंदिरा जयसिंह की अपील का निर्भया की मां ने दिया ये जवाब

Web Title: Rukhsana died testifying in the case of attempted rape in Kanpur ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया