महाराष्ट्र : सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ शिरडी बंद, सड़कों पर सन्नाटा


NP1509 19/01/2020 09:53 AM
109 Views

Dispute over Sai Baba s birthplace Shirdi closed

Mumbai. साईं बाबा (Sai Baba) के जन्म स्थान को लेकर महाराष्ट्र (Maharashtra) के सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) की ओर से दिये गए बयान पर विवाद बढ़ता जा रहा है। सीएम के बयान के विरोध में रविवार को शिरडी बंद का ऐलान किया गया है। जिसकी वजह से शिरडी (Shirdi) की सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है, यहां पर सभी दुकानें बंद हैं। हालांकि साईं मंदिर खुला हुआ है और अच्छी-ख़ासी तादाद में लोग साईं के दर्शन के लिए पहुंचे रहे हैं। 

बता दें कि शिरडी बंद किए जाने का मतलब है कि अब शिरडी में साईं बाबा के दर्शन के लिए जाने वाले उनके भक्तों को अपने बाबा के दर्शन तो मिलेंगे, लेकिन शिरडी शहर में न पानी मिलेगा, न खाना मिलेगा और न ही रहने की सुविधा होगी। 

क्या है विवाद

हाल ही में महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने अपने एक बयान में परभणी जिले (Parbhani) के नजदीक पाथरी गांव (Pathri Village) को साईं बाबा जन्मस्थान बताया था। उन्होंने कहा था कि 'परभणी जिले के नजदीक पाथरी गांव में साईं बाबा के जन्म स्थान पर 100 करोड़ के विकास काम करवाएंगे। पाथरी गांव में इस प्रोजेक्ट पर काम किया जाएगा। 

वहीं, सीएम के इस बयान से शिरडी के लोग नाराज हैं। लोगों का कहना है कि सरकार ये साफ करे कि पाथरी में विकास का काम इसलिए नहीं होगा कि वहां साईं का जन्म हुआ है। साईं बाबा का जन्म पाथरी में नहीं बल्कि शिरडी में हुआ है। इससे पहले भी साईं बाबा और उनके माता-पिता के बारे में कई गलत दावे किए जा चुके हैं।

इस मामले में शिरडी स्थित श्री साईं बाबा संस्थान न्यास के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक मुगलीकर का कहना है कि सीएम को साईं बाबा का जन्मस्थान पाथरी होने संबंधी बयान को वापस लेना चाहिए। देश के कई साईं मंदिरों में एक पाथरी में भी है। उन्होंने कहा कि सभी साईं भक्त इससे आहत हुए हैं, इसलिए इस विवाद को खत्म होना चाहिए।

सीएम ने क्यों दिया ऐसा बयान 

महाराष्ट्र सरकार (Government of Maharashtra) में मंत्री अब्दुल सत्तार (Abdul Sattar) ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बयान पर सफाई देते हुए कहा कि साईं बाबा के जन्म स्थान पाथरी को को सरकार की तरफ से जो फंड देने की बात हुई है जिसके लिए बैठक भी हुई। वह भी इस बैठक में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि सीएम को कागजातों के साथ बताया गया कि साईं बाबा का असली जन्म स्थान परभणी जिला का पाथरी गांव ही था। इसी आधार पर पाथरी गांव के विकास के लिये सरकार की तरफ से सहायता दी जा रही है। 

सत्तार ने कहा कि ये विवाद पुराना है। पाथरी (Pathri) के विकास से शिरडी के साईं बाबा के मंदिर पर कोई असर नही पड़ने वाला। मंदिर को बंद रखना शिरडी के लोगों का सही निर्णय नही है।

यह भी पढ़ें:-...जनसंख्या वाले बयान पर ओवैसी ने भागवत को घेरा, कहा- तुमने कितनों को...

Web Title: Dispute over Sai Baba s birthplace Shirdi closed ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया