जम्मू कश्मीर: बर्खास्त डीएसपी देविंदर सिंह को लेकर हुआ एक और बड़ा खुलासा


NP1357 19/01/2020 11:32:13
530 Views

New Delhi. जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) में आतंकियों को अपनी कार में ले जाते हुए गिरफ्तार किए गए बर्खास्त डीएसपी देविंदर (DSP Devinder) से पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं। जांच के दौरान पता चला कि देविंदर सिंह (DSP Devinder) के ड्रग माफिया (Drug Mafia) से भी सम्बंध थे। इसके साथ ही देविंदर (Devinder) ने दावा किया है कि एक और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी है, जो आतंकियों के साथ मिलकर काम कर रहा है। इस खुलासे के बाद प्रशासन के होश उड़ गए हैं। इसके साथ ही उसके पास बेशुमार दौलत है।

19-01-2020113545Bigdisclosure1

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पुलिस के अधिकारियों ने दावा किया है कि पिछले काफी दिनों से डीएसपी देविंदर सिंह (DSP Devinder Singh) की हरकतों पर नजर रखी जा रही थी। पुलिस (Police) उसका फोन भी ट्रैक कर रही थी। पिछले कई सप्ताह से वह आतंकियों के सम्पर्क में था। पुलिस (Police) ने शक के आधार पर छापेमारी की। छापेमारी के बाद पुलिस का शक और पुख्ता हो गया था। छापेमारी के दौरान पुलिस ने उसके घर से तीन एके 47 और पांच ग्रेनेड भी बरामद किये थे। इसके साथ ही उसके पास बेहिसाब सम्पत्ति होने का खुलासा करें, जो उसके वेतन से कहीं ज्यादा अधिक है। 

एक और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आतंकियों के साथ मिलकर कर रहा  काम

पूछताछ के दौरान देविंदर (Devinder) ने दावा किया है कि एक और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी आतंकियों के साथ मिलकर काम कर रहा है। यह सुनते ही अधिकारियों के होश उड़ गए। हालांकि अधिकारियों का मानना है कि जांच भटकाने के लिए भी एक प्रयास हो सकता है। इसलिए ये जांच का विषय है। जांच के बाद ही इस मामले में कुछ कहा जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक, जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) पुलिस (Police) के बर्खास्त डीएसपी देविंदर सिंह (DSP Devinder Singh) ने पूछताछ में आतंकियों की मदद करने की बात स्वीकारी है। उसने बताया कि आतंकियों की मदद करके बड़ी गलती कर दी है। बताया जा रहा है कि आतंकियों को जम्मू ले जाने के लिए देविंदर सिंह को 10 लाख रुपए मिलने वाले थे, हालांकि कुछ पैसे उसे पहले भी दिये जा चुके थे।

19-01-2020113550Bigdisclosure2

जम्मू कश्मीर पुलिस से बर्खास्त डीएसपी देविंदर सिंह (DSP Devider Singh) जम्मू कश्मीर में पुलवामा के त्राल का रहने वाला है। यह वही इलाका है, जो हिजबुल मुजाहिदीन का भी गढ़ माना जाता है। इसी इलाके में आतंकी बुरहान वानी और जाकिर मूसा रहते थे। देविंदर सिंह के परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं। उसके एक बेटी है, जो बांग्लादेश पढ़ाई कर रही है, जबकि बेटा यहीं रहकर पढ़ाई करता है। उसका एक घर जम्मू में भी है।

11 जनवरी को किया गया था गिरफ्तार

बता दें कि बीते 11 जनवरी को जम्मू कश्मीर पुलिस (Jammu Kashmir Police) में डीएसपी देविंदर सिंह (DSP Devinder Singh) को तब गिरफ्तार किया गया था, जब वह अपनी कार से नवीद और एक अन्‍य आतंकवादी को अपने साथ ले जा रहा था। हालांकि उसने कहा था कि ये दोनों लोग आत्‍मसमर्पण करने वाले थे, लेकिन जांच में पता चला कि वह झूठ बोल रहा है। इस मामले की जांच एनआईए (NIA) को सौंपी गई है। एनआईए टीम देविंदर सिंह (Devinder Singh) को दिल्ली लाकर पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें- 

Ind vs Aus 3rd ODI : बेंगलुरु में खेला जाएगा सीरीज का निर्णायक मैच, रोहित-शिखर के खिलने पर सस्पेंस

बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए गहलोत सरकार ने लिया बड़ा फैसला, आदिवासी छात्राओं को मिलेगी...

Web Title: Big disclosure about dismissed DSP Devinder Singh, shocking disclosure ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया