राष्ट्र का भविष्य युवा पीढ़ी के हाथ में सुरक्षित: प्रो. एमएलबी भट्ट


NP1357 20/01/2020 15:33:08
26 Views

Lucknow. नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के प्रति फैली भ्रांतियों को दूर करने के उद्देश्य से किंग जाॅर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (King George Medical University) के इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज (Institute of Paramedical Sciences) ने एक भाषण प्रतियोगिता (Speech competition) का आयोजन किया, जिसमें प्रतिभाग करने वाले छात्र-छात्राओं ने बड़ी निपूर्णता और बेबाकी के साथ इस कानून के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए अपने विचार प्रस्तुत किए।

20-01-2020153607Thefutureof1

किंग जाॅर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय (King George Medical University) के कुलपति प्रो. एम.एल.बी. भटट् (Vice-Chancellor Prof. MLB Bhatt) ने इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज (Institute of Paramedical Sciences) में आयोजित कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं को सम्बोधित किया और प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने चिकित्सा विश्वविद्यालय में इस प्रकार के कार्यक्रम के आयोजन पर इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज (Institute of Paramedical Sciences) के अधिष्ठाता डाॅ. विनोद जैन (Dr. Vinod Jain) की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम में युवा छात्र-छात्राओं की प्रतिभा देख कर उन्हें पूर्ण विश्वास है कि राष्ट्र का भविष्य आज की युवा पीढ़ी के हाथ में सुरक्षित है। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी पुस्तक या अपने से बड़ों द्वारा बताई गई किसी भी बात का अनुपालन आंख बंद करके नहीं करना चाहिए, बल्कि उसे तर्क और कसौटियों में परखने के बाद ही उसका अनुपालन करना चाहिए।

20-01-2020153612Thefutureof2

सीएए को लेकर फैली भ्रांतियों को छात्रों ने दूर करने का सफल प्रयास किया

चिकित्सा विश्वविद्यालय (Medical University) के प्रतिकुलपति प्रो. जी.पी. सिंह ने कहा कि आज नागरिकता संशोधन अधिनियम (Citizenship Amendment Act) की चर्चा देश ही नहीं विदेशों में भी हो रही है, लेकिन आज के आयोजन में सभी विद्यार्थियों ने इस अधिनियम के बारे में फैली भ्रांतियां दूर करने का सफल प्रयास किया है। इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज (Institute of Paramedical Sciences) के अधिष्ठाता डाॅ. विनोद जैन (Dr. Vinod Jain) ने भी नागरिकता संशोधन अधिनियम के बारे में छात्र-छात्राओं व अन्य लोगों को जागरूक किया और अधिनियम के बारे में विस्तृत चर्चा की। उन्होंने बताया कि हमें सामाजिक समरसता के लिए धर्म, जाति, भाषा एवं सामाजिक भेदभाव नहीं करना चाहिए तथा नागरिकता संशोधन अधिनियम के प्रति जानकारी न केवल स्वयं तक सीमित रखें, बल्कि अन्य लोगों को भी इसके प्रति जागरूक करें, जिससे इसके प्रति समाज में कोई भ्रांति न फैले।

छात्रों को किया गया पुरस्कृत

प्रतियोगिता में कुल 21 विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता में चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एम.एल.बी. भटट् (Vice-Chancellor Prof. MLB Bhatt) ने प्रथम स्थान पर रहने वाले विद्यार्थी को पांच हजार रुपए, द्वितीय स्थान पर रहने वाले विद्यार्थी को तीन हजार तथा तृतीय स्थान पर रहने वाले विद्यार्थी को दो हजार रूपए का नकद पुरस्कार व प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता में डी.आर.टी. की छात्रा साधना यादव ने प्रथम पुरस्कार, डी.डी.टी. के छात्र आशीष नायक एवं डी.इ.टी.सी.टी. के छात्र कमाल अहमद ने संयुक्त रूप से द्वितीय पुरस्कार तथा डी.एम.एल.टी. के छात्र आशीष चतुर्वेदी एवं डी.ओ.टी.टी. के छात्र राज कुमार यादव ने संयुक्त रूप से तृतीय पुरस्कार जीता। प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाले प्रथम दस छात्र-छात्राओं को सांत्वना पुरस्कार के रूप में एक-एक हजार रूपए का नकद पुरस्कार एवं प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया गया।

20-01-2020153617Thefutureof3

इस अवसर पर मुख्य रूप से ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन विभाग की विभागाध्यक्ष डाॅ. तूलिका चन्द्रा, अधिष्ठाता, छात्र कल्याण प्रो. नर सिंह वर्मा, विभागाध्यक्ष ट्राॅमा सर्जरी विभाग डाॅ. संदीप तिवारी, सह-अधिष्ठाता, इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज डाॅ. अनित परिहार, सह-अधिष्ठाता, इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल साइंसेज डाॅ. गीतिका नंदा सिंह उपस्थित रहीं। उक्त कार्यक्रम का सफल संचालन दुर्गा गिरि ने किया तथा शालिनी गुप्ता एवं बीनू दुबे ने विशेष सहयोग दिया।

यह भी पढ़ें- 

लखनऊ: राजभवन स्टाफ के बच्चों ने की मेट्रो की सवारी, कर्मचारियों ने बच्चों को बताए हवाई मार्ग के फायदे

कभी चीन के खिलाफ युद्ध में जवानों का दिया था साथ, अब गणतंत्र दिवस पर दी जाएगी विदाई!

Web Title: The future of the nation is safe in the hands of the younger generation Prof. MLB Bhatt ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया