AMU छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष ने कहा- मुस्लिम देश बर्बाद करने पर आ जाएं तो छोड़ेंगे नहीं


NP1509 24/01/2020 14:19:16
43 Views

Aligarh. सीएए (CAA) के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष फैजुल हसन (Faizul Hasan) का एक विवादित बयान सामने आया है। गुरुवार को धरना दे रहे छात्रों को संबोधित करते हुए फैजुल हसन ने कहा कि मुसलमान (Muslims) वो कौम है, जो किसी देश को बर्बाद करने पर आ जाये, तो छोड़ेंगे नहीं। 

24-01-2020143752AMUsFormerS1

न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान फैजुल हसन ने कहा कि अगर सब्र की सीमा देखनी है तो हिंदुस्तानी मुसलमानों (Hindustani Muslims) की देखिए, 1947 के बाद वर्ष 2020 तक यह सब्र है जो मुसलमान कर रहे हैं, कभी कोशिश नहीं की कि हिंदुस्तान टूट जाए, वरना रोक नहीं पाएंगे।

 

हालांकि अपने बयान को लेकर विवाद बढ़ने पर फैजुल हसन ने धर्म के आधार पर बंटवारे की राजनीति से दूर रहने की बात की। साथ ही उन्होंने भाजपा के नेताओं को 22 करोड़ मुसलमानों को साथ लेकर चलने पर देश के मजबूत होने की नसीहत भी दी। 

 

एएमयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय (Minority Communities) का समर्थन देश को मजबूत करेगा। उन्होंने कहा कि अगर अमित शाह (Amit Shah) और योगी (CM Yogi) ने देश के 22 करोड़ मुसलमानों के साथ वो प्रेम दिखाया होता तो कोई भी देश इनकी तरफ (भारत) आंख उठा कर नहीं देख पाता। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि उनकी किसी सरकार से कोई नफरत नहीं है, लेकिन धर्म के आधार पर बंटवारे की कोई राजनीति नहीं होनी चाहिये। 

Web Title: AMU s Former Student President Fajul Hassan s controversial statement ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया