निर्भया केस: दया याचिका खारिज होने के बाद दोषी मुकेश कुमार पहुंचा सुप्रीम कोर्ट


NP1357 25/01/2020 15:28:51
50 Views

New Delhi. निर्भया गैंगरेप (Nirbhaya Gangrape) और हत्या (Murder)  के चारों दोषियों को तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में एक फरवरी को फांसी पर लटकाया जाना है, इसे लेकर जेल प्रशासन तैयारियां करने में जुटा हुआ है। वहीं, इस बीच दोषी मुकेश कुमार की वकील वृंदा ग्रोवर ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। राष्ट्रपति की ओर से दया याचिका खारिज होने के बाद मुकेश सिंह (Mukesh Singh) सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंचा है। बता दें कि इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट (Patyala House Court) ने निर्भया के दो दोषियों की याचिका को खारिज कर दिया था।

25-01-2020154940Afterdismissa1

गौरतलब है कि निर्भया गैंगरेप और हत्‍या (Nirbhaya gangrape and Murder) के दोषियों के वकील ने इससे पहले पटियाला हाउस कोर्ट (Patiyal House Court) में एक याचिका दाखिल की है। याचिका में कहा है कि तिहाड़ जेल प्रशासन (Trihar jail Administration) ने अभी तक दोषियों को दस्‍तावेज मुहैया नहीं कराए हैं, जिस वजह से पवन और अक्षय सुप्रीम कोर्ट में (Supreme Court) क्‍यूरेटिव पिटीशन दाखिल नहीं पा रहे हैं। हालांकि इस मामले में शनिवार को सुनवाई हो सकती है।

वहीं, निर्भया गैंगरेप  और हत्या के चारों दोषियों को एक फरवरी को दिल्ली की तिहाड़ जेल में फांसी पर लटकाया जाएगा। इसे लेकर जेल प्रशासन दोषियों की विशेष निगरानी बरत रहा है। फांसी की तारीख नजदीक आते ही कोई दोषी खुद को नुकसान न पहुंचा लें, लिए विशेष निगरानी की ​जा रही है, यहां तक कि टॉयलेट में भी अकेला नहीं छोड़ा जा रहा है।

चारों दोषियों को 'सुसाइड वॉच' में रखा गया

जेल अधिकारी के मुताबिक, चारों दोषियों को 'सुसाइड वॉच' (विशेष निगरानी) में रखा गया है। एक ही सेल में चारों को अलग-अलग कोठरी में रखा गया है। सभी की कोठरी के बाहर एक गार्ड को तैनात किया गया है। सभी सेल के पास सीसीटीवी (CCTV) कैमरे भी लगाए गए हैं, जिससे हर समय निगरानी रखी जा सके। रात को भी कोठरी की बिजली नहीं बंद की जाती है।

दोषियों से उनकी आखिरी इच्‍छा पूछी

बता दें कि निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाए जाने का डेथ वारंट जारी हो चुका है, जिसके बाद फिर हलचल मच गई है। जेल प्रशासन फांसी देने के लिए अपनी कार्रवाई करनी शुरू कर दी है। प्रशासन ने चारों दोषियों से उनकी आखिरी इच्‍छा पूछी है, हालांकि दोषियों ने अब तक कोई जवाब नहीं दिया है।

दोषियों के परिजनों को चिट्ठी लिखी

तिहाड़ जेल प्रशासन ने दोषियों के परिजनों को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उनके परिवारीजनों को बताया गया है कि सभी दोषियों को एक फरवरी को सुबह छह बजे फांसी पर लटकाया जाएगा, जो भी उनसे आखिरी मुलाकात करना चाहते हैं, मिल लें। हालांकि अभी कोई जवाब नहीं मिला है।

यह भी पढ़ें - 

निर्भया केस: फांसी से पहले चारों दोषियों को 'सुसाइड वॉच' में रखा गया

गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में सुरक्षा के कड़े इंतेजामात, एसपीजी-एनएसजी और आईटीबीपी के कमांडो भी तैनात

कोरोनावायरस से चीन में अब तक 41 की मौत, भारत में 11 लोग रखे गए निगरानी में...

Web Title: After dismissal of mercy petition, guilty Mukesh Kumar reached Supreme Court ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया