निर्भया केस : दोषी विनय शर्मा ने भेजी राष्ट्रपति को दया याचिका, कहा- जीना नहीं चाहता था, पर...


NP1509 30/01/2020 10:29 AM
701 Views

New Delhi. निर्भया केस (Nirbhaya Case) दोषी फांसी की सजा से बचने के लिए तमाम दांव पेंच आज़मा रहे हैं। इसी कड़ी में दोषियों में शामिल विनय शर्मा (Vinay Sharma) ने बुधवार को राष्ट्रपति (President) के पास दया याचिका (Mercy Petition) दाखिल की है। जिसमें दोषी ने अपने वकील एपी सिंह के जरिये अपनी आपबीती राष्ट्रपति को बताने की कोशिश की है। विनय ने अपनी अर्जी में कहा है कि वह जीना नहीं चाहता था लेकिन उसके मां-बाप के कहने के बाद उनसे मरने का ख्याल छोड़ दिया है। 

Nirbhaya case convict Vinay Sharma sent mercy plea to President

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दोषी विनय शर्मा ने अपनी अर्जी में कहा कि वह राष्ट्रपति (President) को बताना चाहता है कि जेल में रहने के दौरान उसका कितना मानसिक उत्पीड़न (Mental harassment) हुआ है। साथ ही उसने राष्ट्रपति से अपील की है कि वो जो भी समय उचित हो वो बता दें, जिससे उसके वकील एपी सिंह उसका पक्ष मौखिक तौर पर उनके समक्ष रख सकें। 

विनय ने अपने मां-बाप से मुलाक़ात का जिक्र करते हुए कहा कि वह जीना नहीं चाहता था, लेकिन जब उससे उनके मां-बाप मिलने आए और उन्होंने कहा कि 'बेटा तुमको देखकर हम जिंदा हैं।' तब से उसने मरने का खयाल छोड़ दिया है। उसके पिताजी और मां ने कहा कि तू हमारे लिए जिंदा रह। 

बता दें कि निर्भया केस में राष्ट्रपति को भेजी गयी यह दूसरी दया याचिका है। इससे पहले राष्ट्रपति एक अन्य दोषी मुकेश कुमार सिंह (Mukesh Kumar Singh) की दया याचिका खारिज कर चुके हैं। वहीं, चार आरोपियों में से दो दोषियों ने अभी अपनी दया याचिका राष्ट्रपति को नहीं भेजी है। 

यह भी पढ़ें:-...यूरोपीय संसद में CAA विरोधी प्रस्ताव पर वोटिंग टली, भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत

Web Title: Nirbhaya case convict Vinay Sharma sent mercy plea to President ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया