निर्भया केस : सभी दोषियों को एक साथ होगी फांसी, कानूनी विकल्प लेने के लिए मिला एक हफ्ते का वक्त


NP1509 05/02/2020 15:41 PM
52 Views

New Delhi. निर्भया केस दोषियों की फांसी को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट में बुधवार को एक बार फिर सुनवाई हुई। इस मामले में कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए सभी दोषियों को एक सप्ताह के भीतर सभी कानूनी विकल्प लेने का निर्देश दिया है। कोर्ट के इस आदेश के बाद अब साफ हो गया है कि दोषियों को जल्द ही फांसी पर लटकाया जाएगा। 

in nirbhaya gang-rape case Delhi High Court gives all convicts one week to resort to all legal remedies

सुनवाई के दौरान कोर्ट ने कहा कि एक सप्ताह में सभी दोषी अपनी लीगल रेमिडीस ले लें। इसके बाद फांसी की सजा के लिए डेथ वारंट जारी करने की प्रक्रिया शुरू होगी। हाईकोर्ट की याचिका का हाईकोर्ट में ही निपटारा किया जाए। वहीं, कोर्ट ने केंद्र की उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें फांसी में हो रही देरी पर दोषियों को अलग-अलग फांसी देने की बात कही गयी थी। 

दिल्ली हाईकोर्ट ने पटियाला हाउस कोर्ट के फैसले को सही मानते हुए कहा कि दिल्ली जेल के नियम यह नहीं कहते हैं कि अगर एक दोषी की दया याचिका लंबित है, तो अन्य दोषियों की फांसी हो सकती है। केंद्र सरकार ने अपनी याचिका में कहा था कि सभी दोषियों को अलग-अलग फांसी दी जानी चाहिए। जिन दोषियों की दया याचिका  राष्ट्रपति खारिज कर चुके हैं, उन्हें फांसी पर लटकाया जा सकता। 

बता दें कि 16 दिसंबर, 2012 को हुए निर्भया गैंगरेप और हत्या केस में दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट से दो बार डेथ वारंट जारी कर चुका है। लेकिन दोषियों की ओर से कानूनी दांव पेंच आजमाए जाने के कारण चारों दोषियों की फांसी दो बार (21 जनवरी और 1 फरवरी) टल चुकी है। 

वहीं, दिल्ली जेल नियमों के अनुसार एक ही अपराध के चारों दोषियों में से किसी को भी तब तक फांसी पर नहीं लटकाया जा सकता जब तक कि अंतिम दोषी दया याचिका सहित सभी कानूनी विकल्प नहीं आजमा लेता। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के हिसाब से दया याचिका खारिज होने के बाद दोषी को 14 दिनों का वक्त दिया जाता है।

यह भी पढ़ें:-...निर्भया केस : विनय शर्मा की दया याचिका खारिज, एक और दोषी ने राष्ट्रपति के पास भेजी याचिका

Web Title: in nirbhaya gang-rape case Delhi High Court gives all convicts one week to resort to all legal remedies ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया