टैम्पो की टक्कर से बाइक सवार साले की मौत, बहनोई घायल 


D. K. SHUKLA 10/02/2020 18:36:35
34 Views

. गोदभराई से वापस लौटते समय हुआ हादसा

Unnao. सदर कोतवाली के मैनीखेड़ा रेलवे क्रासिंग के पास तेज रफ्तार टेम्पो ने बाइक में टक्कर मार दी। इस हादसे में बाइक चला रहे साले की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि साला गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है। जबकि शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। बताया जा रहा है कि बाइक सवार गोदभराई के कार्यक्रम से वापस लौट रहे थे। हादसे की खबर परिजनों तक पहुंचते ही कोहराम मच गया। 

10-02-2020185606TampohitBike1

अचलगंज थाना क्षेत्र के खुटहा गांव निवासी दयाशंकर पुत्र सुरेश के भतीजे जीतेन्द्र की गोदभराई कार्यक्रम सोमवार को कोतवाली क्षेत्र के निबहरा गांव में होना था। गोदभराई में शामिल होने वह अपने साले ओमप्रकाश 45 उर्फ फन्नी पुत्र घसीटे निवासी आजाद नगर गंगाघाट के साथ बाइक से गया था।

कार्यक्रम से वापस घर लौटते समय मैनीखेड़ा रेलवे क्राॅसिंग के पास सामने से आ रही टैम्पो से जबरदस्त भिड़त हो गई। टक्कर लगने से बाइक चला रहे साले ओमप्रकाश की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई जबकि बहनाई दयाशंकर गंभीर रूप से घायल हो गया।

सूचना मितले ही मगरवारा चैकी प्रभारी अखिलेश यादव अन्य पुलिसकर्मियों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। एम्बुलेंस की मदद से घायल को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करााया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही चालक टैम्पो छोड़ मौके से भागने से कामयाब रहा।

घटना से एक साथ तीन-तीन घरों में मच गया मातम

इस घटना की जानकारी जैसे ही परिजनों तक पहुंची तो एक साथ तीन-तीन घरों में कोहराम मच गया। कुछ देर पहले जहां इन घरों के लोग गोदभराई सम्पन्न होने के बाद शादी की तैयारियों को लेकर चर्चाओं में जुटे थे। वहीं इस घटना की खबर ने सभी को झकझोर कर रख दिया। ओमप्रकाश के परिवार को जो दर्द मिला है उसे बयां करना मुश्किल ही है। इसके साथ-साथ दयाशंकर और उस लड़की गोलू के घर में भी मातम छा गया। 

 ओमप्रकाश के परिवार पर टूटा मुसीबतों का पहाड़

मृतक ओमप्रकाश की मौत के बाद पत्नी गुड्डी समेत उसके पांच बच्चों पर भी मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा हैं। ओमप्रकाश के पांच बच्चों में सबसे बड़ी बेटी सोनम 20 वर्ष, स्वाति 18, शिवानी 17, और बेटों में शिवम 15 व सत्यम 10 शामिल है। अब गुड्डी के सामने सबसे बड़ी समस्या यह खड़ी हो गई है कि वह अनब्याही तीन-तीन बेटियों के हाथ कैसे पीले करेगी। उसके अलावा दो बेटों की परवरिश अब उसी को करनी है। बता दें कि मृतक ओमप्रकाश मजदूरी कर परिवार को पेट पाल रहा था। 

यह भी पढ़ें...तो इस तरह योगी सरकार कांग्रेस के किसान आंदोलन को करेगी फ्लाप

 

 

Web Title: Tampo hit Bike one died another injured ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया