जाम के खिलाफ पुलिस ने छेड़ा संग्राम, जिले भर में चला 'चौराहा-तिराहा खाली करो अभियान'


D. K. SHUKLA 11/02/2020 22:51:27
38 Views

. अभियान के दौरान नो पार्किंग में खड़े वाहन रहे निशाने पर
. शहर में कोतवाल ने खुद की अभियान की अगुवाई

Unnao. मंगलवार को जिले का पुलिस अमला एक्शन मोड में नजर आया। जिले के सभी थाना क्षेत्रों में एसपी के निर्देश पर 'चौराहा तिराहा खाली करो' अभियान चलाया गया। चौराहों से सभी दिशाओं में 25 मीटर की दूरी तक का एरिया अतिक्रमण मुक्त कराया गया। अचानक चले इस अभियान से दुकानदारों में हड़कम्प मच गया। वहीं दूसरी ओर जाम में उलझने वाले लोगों ने रास्ते साफ देख खुशी जाहिर की। इस अभियान के केंद्र में रहें नो पार्किंग एरिया में खड़े होने वाहन जिनके पुलिस ने धड़ाधड़ ई चालान काटे।

11-02-2020230706Thepolicewag1  
 

बता दें कि सोमवार शाम न्यूज टाइम्प पोर्टल पर नो पार्किंग जोन में बेतरतीब खड़े होने से शहर में आए दिन लगने वाले जाम की खबर प्रकाशित ​की गयी थी। इस खबर का असर रहा कि मंगलवार ही पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर ने जिले भर के सभी थानाध्यक्षों को सख्त निर्देश जारी करते चौराहो तिराहों को पूरी तरह से अतिक्रमण मुक्त कराने के आदेश दिए। अपने आला अधिकारी का आदेश मिलते ही मातहत उसे अंजाम तक पहुंचाने में जुट गए।

शहर में कोतवाल दिनेश चंद्र मिश्र के नेतृत्व में गांधी नगर तिराहे से आईबीपी टंकी चौराहे तक अभियान चलाया गया। इस दौरान अतिक्रमण कर सड़कों तक काबिज कई दुकानदार कोतवाल का कोपभाजन भी बने। शहर कोतवाल ने अतिक्रमणकारियों को सख्त चेतावनी देते हुए कहा अगर दोबारा अतिक्रमण किया तो चालान कटेगा ही साथ ही माल भी जब्त कर लिया जाएगा। 

11-02-2020230745Thepolicewag2
 

एसपी ने कहा, आगे भी चलता रहेगा अभियान

मंगलवार चले अभियान के बाबत पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक विक्रांतवीर ने बताया कि जाम की समस्या वास्तव में विकराल है, इसे देखते हुए सभी थानाध्यक्षों को 'चौराहा तिराहा खाली करो' अभियान चलाने के निर्देश दिए गए थे। आज अभियान का पहला दिन था। आगे भी इसी तरह यह अभियान जारी रहेगा। प्रत्येक चौराहे से दिशा में 25-25 मीटर तक का पूरा एरिया अतिक्रमण से मुक्त कराने के निर्देश दिए गए है। इस दौरान अवैध रूप से चौराहे से सवारियां ढोने वाले वाहनों और नो पार्किंग में खड़े वाहनों पर चालान की कार्रवाई की जा रही है।

बड़े पैमाने पर हुए नो पार्किंग में खड़े वाहनों के ई चालान

एसपी के निर्देश पर मंगलवार चलाए गए इस अभियान के नोडल अधिकारी बनाए गए यातायात निरीक्षक इंद्रपाल से हुई बातचीत में उन्होंने बताया कि शहर में नो पार्किंग में खड़े 96 वाहनों के ई चालन किए गए। उन्होंने बताया कि जिले भर में यह अभियान चलाया गया है जिसकी पूरी सूचना अगले दिन ही मिल सकेगी। उधर सदर कोतवाल दिनेश चंद्र मिश्र के मुताबिक 20 दुकानदारों के भी चालान किए गए हैं।

11-02-2020230913Thepolicewag3 

नगर पालिका का नकारापन हुआ उजागर

कहने को तो शहर में वेंडिंग और नान वेंडिंग जोन चिन्हित किए जा चुके है। बावजूद इसके नगर पालिका की उदासीनता से पूरा शहर अतिक्रमण की जद में है। सूत्रों की मानी जाए तो अतिक्रमणकारियों को नगर पालिका का वरदहस्त प्राप्त है। इसके एवज में पालिका कर्मियों द्वारा इन दुकानदारों से विधिवत वसूली भी की जाती है। जब इस संबंध में पालिका के अधिशाषी अधिकारी रामपूजन श्रीवास्तव से बात करने के लिए उनके मोबाइल नंबर पर सम्पर्क साधने का प्रयास किया गया तो हमेशा की तरह उनका फोन नहीं उठा। 

11-02-2020231009Thepolicewag4

क्या बोले सिटी मजिस्ट्रेट

पालिका ईओ के फोन न उठाने और अभियान के दौरान पालिका अमले के मौजूद न होने के बाबत सिटी मजिस्ट्रेट से हुई बातचीत में उन्होंने कहा कि ईओ के फोन न रिसीव करने का मामला उनके संज्ञान में जल्द ही जिलाधिकारी से इस पर बात की जाएगी। पालिका के अभियान में न मौजूद होने पर उन्होंने कहा कि इस संबंध में एडीएम से बात की जाएगी। 

अभियान से पालिका अमला दिखा नदारद

आमतौर पर अतिक्रमण अभियान की बागडोर पालिका के हाथों में ही होती है। यह बात अलग है कि अभियान के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस बल साथ में मौजूद रहता है। मंगलवार को शहर में चले अभियान में अकेले पुलिस ही हांफती नजर आयी जबकि पालिका का अमला नदारत रहा। अगर पालिका का अमला मौजूद होता तो शायद यह अभियान और असरदार रहता।   

यह भी पढ़ें...नो पार्किंग बोर्ड साबित हो रहे हैं बेईमानी, जनता उठा रही परेशानी

Web Title: The police waged a war against the jam, a Chauraha Tiraha Khali Khao campaign across the district ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया