पहली बार मूल बजट ने 5 लाख करोड़ की सीमा को पार किया : सीएम योगी


NP1509 18/02/2020 15:13 PM
66 Views

Lucknow. उत्तर प्रदेश विधानसभा में वर्ष 2020-21 के लिए योगी सरकार ने मंगलवार को 5,12,860.72 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। इसके बाद सीएम योगी आदित्यनाथ मीडिया को संबोधित किया। वित्त मंत्री सुरेश खन्ना और अपनी टीम को बधाई देते हुए सीएम योगी ने कहा कि उत्तर प्रदेश के इतिहास के इस सबसे बड़े बजट में उत्तर प्रदेश सरकार के मूल बजट ने पहली बार 5 लाख करोड़ की सीमा को पार किया है।

CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit

सीएम योगी आदित्यनाथ के प्रेस कांफ्रेंस की मुख्य बातें

-आज सदन में 5 लाख 12 हजार करोड़ से अधिक का बजट प्रस्तुत किया गया है। यह बजट वित्तीय अनुशासन का पालन करते हुए बनाया गया है। 
-हम, अपना राजकोषीय घाटा रिजर्व बैंक द्वारा तय की गई सीमा (3 प्रतिशत से नीचे 2.97 प्रतिशत) पर रखने में सफल रहे हैं। 
-चौथा बजट प्रदेश की ऊर्जा के पर्याय युवाओं के लिए और उनकी असीम संभावनाओं को देश-दुनिया के सामने प्रस्तुत करने के लिए पेश किया गया है। -शिक्षित नौजवानों को रोजगार देने के लिए अप्रेंटिसशिप की योजना प्रारंभ की गयी है। हर युवा किसी उद्यम से जुड़ेगा और अप्रेंटिसशिप पूरी होने की अवधि तक सरकार द्वारा उसे 2500 प्रतिमाह का सहयोग दिया जाएगा। 

CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit
-एक नेशनल लॉं यूनिवर्सिटी और आयुष विश्वविद्यालय भी इस बजट का हिस्सा है। साथ ही पुलिस फाॅरेंसिक विश्वविद्यालय भी लखनऊ में बनाया जाना है। 
-यूपी को शिक्षा का केंद्र बिंदु बनाने के लिए सहारनपुर, आजमगढ़ और अलीगढ़ में नए विश्वविद्यालय स्थापित करने और लखनऊ में अटल मेडिकल विश्वविद्यालय को इस बजट में रखा गया है। 
-8 मेडिकल कॉलेज निर्माणाधीन हैं, जबकि 13 अन्य मेडिकल कॉलेज के निर्माण के लिए हमने इस बजट में धनराशि की व्यवस्था कर दी है। 
-मात्र तीन वर्षों के अंदर हम 28 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य करा रहे हैं। रायबरेली और गोरखपुर AIIMS में प्रवेश प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है, साथ ही 7 मेडिकल कॉलेज में प्रवेश प्रारंभ हो चुका है। 
-सरकार की कोशिश है कि अगले साल तक प्रदेश के सभी 75 जनपदों में सरकारी या पीपीपी मोड में मेडिकल कॉलेजों की स्थापना के कार्य को आगे बढ़ा सकें।
-मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत अब तक 2 लाख 60 हजार से अधिक बालिकाओं को आच्छादित किया जा चुका है। महिला सशक्तिकरण की दृष्टि से ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान को आगे बढ़ाते हुए 'मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना' शुरुआत की गयी है। 
-डिफेंस एक्सपो इंडिया में उत्तर प्रदेश को 50,000 करोड़ के निवेश के प्रस्ताव प्राप्त हुए। यह प्रदेश की क्षमता है और इस क्षमता के लिए पर्याप्त इंफ्रास्ट्रक्चर उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। 

CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit
-गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए धनराशि का आवंटन कर दिया गया है और सरकार की कोशिश होगी कि इस साल के अंत तक मेरठ से प्रयागराज तक गंगा एक्सप्रेस-वे के शिलान्यास की प्रक्रिया पूर्ण हो जाए। 
-इस साल के अंत तक पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे आम लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास इसी महीने में होने का प्रस्ताव है। 
-प्रदेश में 11 नए एयरपोर्ट भी बनने की प्रक्रिया के साथ जोड़े गए हैं। इंटर-स्टेट कनेक्टिविटी को 4-लेन से जोड़ने की व्यवस्था की गई है। प्रदेश के हर मुख्यालय को भी 4-लेन के साथ जोड़ने की व्यवस्था की गई है। 
-एशिया के सबसे बड़े 'जेवर एयरपोर्ट' की सारी औपचारिकताएं पूर्ण करने के लिए आवश्यक धनराशि की व्यवस्था बजट में की गई है। साथ ही अयोध्या में एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट बन सके इसके लिए भी बजट में व्यवस्था की गई है। 
-प्रदेश में मूल किसान, उनके परिवार का एक कमाऊ सदस्य और बटाईदार किसानों को भी 5 लाख तक का बीमा राज्य सरकार द्वारा दिया जाएगा। 
2022 तक हर गरीब के पास अपना मकान हो। 
-कोई भी अपने आपको उपेक्षित न महसूस करे, इसके लिए वृद्धजनों को वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित महिलाओं को पेंशन व दिव्यांगजनों के लिए भी सुविधाजनक केंद्रों की स्थापना हो इसके लिए भी व्यवस्था की है। 
-सभी 60,000 ग्राम पंचायतों में एक सामुदायिक शौचालय निर्माण की व्यवस्था भी सरकार द्वारा बजट में की गई है। 

CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit
-विंध्य और बुंदेलखण्ड क्षेत्र में हर घर में शुद्ध पेयजल पहुंचाने के लिए व्यवस्था की गई है। साथ ही इंसेफेलाइटिस, आर्सेनिक और फ्लोराइड आदि से प्रभावित क्षेत्रों में भी पेयजल की व्यवस्था सरकार करेगी। 
-प्रदेश में निराश्रित गोवंशों की समस्या के समाधान यानी आश्रय स्थल, भरण-पोषण के साथ-साथ उनकी उन्नत नस्ल पर नए सिरे से काम करने की योजना के लिए भी बजट में व्यवस्था की गई है। 
-पुलिस के आधुनिकीकरण के साथ ही पुलिसकर्मियों के लिए बुनियादी सुविधा की भी इस बजट में व्यवस्था की गई है। 
-रजिस्टर्ड श्रमिकों के बच्चों के लिए 18 मण्डलों में अटल आवासीय विद्यालयों की व्यवस्था की गई है। जहां बच्चों को उनकी इच्छानुसार पढ़ाई, खेल और कौशल विकास से जोड़कर स्वावलंबी बनाने की व्यवस्था की जाएगी। 
-समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को मुख्यमंत्री आरोग्य मेला द्वारा प्रत्येक PHC में न केवल जांच, परामर्श एवं निःशुल्क दवा उपलब्ध होगी, बल्कि स्वास्थ्य, पोषण संबंधी सभी योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके इसकी व्यवस्था भी बजट में की गई है। 

CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit
-सर्विस सेक्टर को भी आगे बढ़ाने का प्रयास किया गया है। आस्था के प्रतीक क्षेत्रों में बुनियादी सुविधाओं के साथ-साथ पर्यटन विकास की संभावनाओं के माध्यम से रोजगार की संभावनाओं को आगे बढ़ाया जा सके, इस बजट में यह व्यवस्था की गई है। 
-यह उत्तर प्रदेश की 23 करोड़ जनता की आकांक्षाओं की पूर्ति और प्रदेश की आस्था को सम्मान देने वाला बजट है। सरकार ने तकनीक का प्रयोग करके प्रत्येक क्षेत्र में आधुनिकीकरण के प्रयास नए सिरे से प्रारंभ किए हैं। 

यह भी पढ़ें:-...योगी सरकार ने पेश किया अब तक का सबसे बड़ा बजट, शिक्षा और रोजगार पर खास फोकस

Web Title: CM Yogi Adityanath said that for the first time the original budget crossed the 5 lakh crore limit ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया