सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में यूपी बोर्ड के छात्रों ने दी परीक्षा


NP1357 18/02/2020 18:59:07
39 Views

Lucknow. प्रदेश के कानपुर में बने 128 केंद्रों पर मंगलवार की सुबह यूपी बोर्ड की परीक्षाएं सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में स्टार्ट हो गईं। पहले दिन केंद्रों पर बी कॉपियों के संकट ने हाईस्कूल के परीक्षार्थियों को रुला दिया। हालांकि बाद में स्टूडेंट्स को इंटरमीडिएट की बी कॉपी देकर परीक्षा पूरी कराई गई। प्रशासनिक और शिक्षा अधिकारियों ने केंद्रों का निरीक्षण करके परीक्षा व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिलाधिकारी ब्रह्मदेव राम तिवारी कई परीक्षा केंद्रों पर खुद पहुंचे। उन्होंने केंद्र व्यवस्थापकों को सख्त ताकीद देते हुए कहा कि नकल विहीन परीक्षाएं हर कीमत पर कराई जाएं।

18-02-2020190102CCTVcamerasm1

मंगलवार सुबह यूपी बोर्ड परीक्षा की शुरुआत हो गई। हाईस्कूल में पहले दिन हिंदी और प्रारंभिक हिंदी हुई। दूसरी पॉली में इंटरमीडिएट में हिंदी व सामान्य हिंदी की परीक्षा हुई। शहर में 107069 परीक्षार्थियों के लिए 128 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। कुल 7800 कक्ष निरीक्षकों की तैनाती की गई है। केंद्रों को 16 सेक्टर में बांटा गया है। इसमें से तीन केंद्रों को बेहद संवेदनशील माना गया है। पांच सचल टीम केंद्रों के निरीक्षण के लिए लगाई गई हैं। जीआइसी चुन्नीगंज को मुख्य संकलन केंद्र बनाया गया है, जबकि राजकीय बालिका इंटर कॉलेज घाटमपुर और बीआरडी इंटर कॉलेज बिल्हौर उपसंकलन केंद्र बनाया गया है।

यूपी बोर्ड की परीक्षा में किसी तरह की अव्यवस्था या गड़बड़ी न हो सके इसके मद्देनजर जिलाधिकारी डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने ओंकारेश्वर सरस्वती विद्या निकेतन में ऑनलाइन मॉनिटरिंग सिस्टम देखा। इसके बाद डीआईओएस समेत अन्य सचल दल ने केंद्रों का निरीक्षण किया। कंट्रोल रूम प्रभारी दीपक शुक्ला ने बताया कि सभी परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्वक संपन्न हुई है। ऑनलाइन मॉनीटरिंग सिस्टम पर 05122540035, 05122537193 दिए गए हैं।

18-02-2020190108CCTVcamerasm2

जिला विद्यालय निरीक्षक सतीश तिवारी ने 128 परीक्षा केन्द्रों में आठ केंद्र व्यवस्थापकों को बदल दिया। इसमें पांच व्यवस्थापकों को, उनका प्रबंधतंत्र के करीब होना बताया गया है। जबकि तीन व्यवस्थापकों को केन्द्रों के संवेदनशील होने की वजह से बदला गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि एचपी शिक्षा निकेतन गुजैनी, वीआरआरडी इंटर कॉलेज बरुई, जेडीएस इंटर कॉलेज भैरमपुर, शत्रुघ्न बालिका इंटर कॉलेज कल्याणपुर, सरदार पटेल इंटर कॉलेज जरौली में तैनात केंद्र व्यवस्थापक प्रबंधतंत्र के करीबी थे। 

वहीं राजनारायण इंटर कॉलेज शंभुआ, ओएनएमटी इंटर कॉलेज मकसूदाबाद और हलीम मुस्लिम इंटर कॉलेज के संवेदनशील परीक्षा केंद्रों की सूची में होने से यहां के केन्द्र व्यवस्थापकों को बदला गया। परीक्षा के दौरान केंद्रों पर नकल न हो, इसके लिए ओंकारेश्वर सरस्वती विद्या निकेतन में बने ऑनलाइन मॉनीटङ्क्षरग सिस्टम से 128 परीक्षा केंद्रों की निगरानी की जाएगी। नजर रखने के लिए यहां 25 कंप्यूटर लगाए गए हैं।

बी कॉपी के लिए रोईं हाईस्कूल की छात्राएं

नवाबगंज स्थित डीपीएस इंटर कॉलेज परीक्षा केंद्र में हाईस्कूल के 306 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। इनमें से कई छात्राओं ने कक्ष निरीक्षकों से बी कॉपी मांगी तो उन्हें नहीं मिली। इसपर कुछ छात्राएं रोने लगीं। जानकारी पर प्रधानाचार्य नंदकिशोर मिश्रा ने डीआईओएस कार्यालय में फोनकर बी कॉपी खत्म होने के बाद की स्थिति में निर्देशों के बारे पूछा। इसपर डीआईओएस कार्यालय की तरफ से सभी परीक्षा केंद्रों में ऐसी स्थिति पर 12वीं की बोर्ड परीक्षा की बी कॉपी इस्तेमाल करने के निर्देश दिए गए। इस बाबत केंद्र अध्यक्षों ने पहले ही विरोध जताते हुए कहा था कि हिंदी का पेपर बड़ा होता है और परीक्षार्थी अधिक लिखते हैं।

Web Title: CCTV cameras monitor UP board students test ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया