सीएम योगी की दो टूक- CAA हिंसा मारे गए लोगों को नहीं मिलेगा मुआवजा


Abhimanyu Verma 26/02/2020 17:19:12
34 Views

New Delhi. यूपी विधानसभा बजट सत्र के दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को विपक्ष पर जोरदार हमला बोला। इस दौरान सीएए के खिलाफ़ हिंसक प्रदर्शन में मारे गए लोगों के परिवार को मुआवजा देने की मांग पर सीएम योगी ने दो टूक कहा कि दंगे और विरोध प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगों को मुआवजा देने का प्रावधान नहीं है और उन्हें कोई पैसा नहीं दिया जाएगा। 

26-02-2020173833CMYogiAditya1

बता दें कि विधानसभा में सपा सदस्य राकेश प्रताप सिंह ने सरकार से पूछा कि क्या सरकार हिंसा में मारे गए परिवार के लोगों को सरकार कोई मुआवजा देगी। इस पर सीएम योगी ने यह जवाब दिया है। सीएम योगी ने कहा कि आखिर सीएए को लेकर इतना बवाल क्यों है। आखिर देश की छवि आप लोग क्यों खराब करना चाहते हैं।

सीएम ने कहा कि आगजनी कर निर्दोष लोगों को निशाना बनाकर वे लोग क्या चाहते हैं। इन्हें माफ नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पूरे देश में सीएए के नाम पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। इससे समाज की अपूर्णीय क्षति हो रही है। इसके लिए आने वाली पीढ़ी माफ नहीं करेगी। 

दंगे और प्रदर्शन में मारे गए 21 लोग

बजट सत्र के दौरान राज्यपाल के अभिभाषण पर हुई चर्चा पर एक सवाल के जवाब में सीएम योगी ने सदन को बताया कि पिछले 6 महीने में दंगों, प्रदर्शन और धरने के दौरान 21 लोग मारे गए हैं। एक लिखित जवाब में सीएम ने कहा कि प्रदर्शनकारियों द्वारा पत्थरबाजी की घटना में 400 पुलिसकर्मी घायल हो गए, जबकि आग्नेय अस्त्रों से हुए हमलों में 61 पुलिसकर्मी घायल हुए थे। 

गौरतलब है कि पिछले साल दिसंबर महीने में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान यूपी में कई जिलों में बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। इस दौरान लगभग 20 लोगों की मौत हुई थी। वहीं, विपक्ष ने योगी सरकार पर सीएए के खिलाफ हो रहे हिंसा के दौरान बल प्रयोग का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें:-...विपक्षी दलों पर सीएम योगी का जोरदार हमला, कहा- पिछली सरकारों की नीयत थी खराब

Web Title: CM Yogi Adityanath said that CAA violence victims will not get compensation ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)

कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया